जैक मा ने अमरीका-चीन  ट्रेड वार को लेकर दी चेतावनी

 न्यूयार्कःइन्वेस्टर कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए अलीबाबा के चेयरमैन जैक मा ने चेतावनी देते हुए कहा कि अमरीका और चीन के बीच व्यापारिक संघर्ष दो दशकों तक जारी रहने की संभावना है। उन्होंने कमजोर व्यापारिक नियमों का हवाला देते हुए कहा कि इन दोनों  देशों में  ट्रेड वार का खमियाजा   इनसे जुड़े देशों को भी भुगतना' पड़ेगा। जैक मा मंगलवार को अलीबाबा  रहे थे। इससे पहले अमेरिका द्वारा और 200 अरब डॉलर मूल्य के चीनी सामानों के आयात पर शुल्क लगाने + के ऐलान के बाद चीन ने बदले की कार्रवाई करने की धमकी दी थी।  


उन्होंने कहा कि ट्रेड वार  से चीनी और विदेशी कंपनियों पर तुरंत और नकारात्मक असर होगा। उन्होंने अंदेशा जताया कि चीन के कारोबारी घराने अमरीकी टैरिफ्स से बचने के लिए कुछ वर्षों के लिए दूसरे देशों में प्रॉडक्शन करेंगे। उन्होंने आगे कहा, 'मिडल टर्म में कई चीनी कंपनियां दूसरे देशों का रुख करेंगी।'मा ने कहा, 'आप छोटी-छोटी लड़ाइयां तो जीत सकते हैं, लेकिन बड़ा युद्ध हार जाएंगे।' उन्होंने कहा कि लंबे भविष्य के लिए व्यापार के नए नियमों की जरूरत है। 

मा ने  विश्व व्यापार संगठन (WTO) का हवाला देते हुए कहा, 'डॉनल्ड ट्रंप रिटायर हो गए और नए राष्ट्रपति आए तो भी यह जारी रहेगा। हमें नए ट्रेड रूल्स की जरूरत है। हमें डब्ल्यूटीओ को अपग्रेड करने की जरूरत है।' मा ने पिछले साल अमरी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात की थी। इस मीटिंग में उन्होंने अमरीका में 10 लाख नौकरियां पैदा करने का वादा किया था। तब से अमरीका और चीन के बीच व्यापारिक रिश्ते खराब हुए  हैं। मा ने कहा कि यह बतौर चेयरमैन शेयरधारकों को उनका आखिरी संबोधन है। पिछले सप्ताह उन्होंने ऐलान किया था कि वह अगले वर्ष कंपनी की जिम्मेदारी मौजूदा सीईओ डेनियल झांग को दे देंगे। 

Related Stories:

RELATED पाक विदेश मंत्री कुरैशी आज रहेंगे अफगानिस्तान के दौरे पर