Kundli Tv- प्रदोष पर ये काम दुश्मनों को बनाए दोस्त

ये नहीं देखा तो क्या देखा (देखें VIDEO)


गुरुवार दिनांक 23.08.18 श्रावण शुक्ल त्रयोदशी पर गुरु प्रदोष पर्व मनाया जाएगा। शिव को समर्पित त्रयोदशी सर्व दोषों का नाश करती है। अतः इसे प्रदोष कहते हैं। शास्त्रानुसार इस दिन समस्त दिव्य शक्तियां शिवलिंग में समा जाती हैं। इस दिन प्रदोषकाल में सिर्फ शिवलिंग के दर्शन से सर्व जन्मों के पाप मिट जाते हैं व बेलपत्र चढ़ाकर दीप जलाने से अनेक पुण्य प्राप्त होते हैं। वार के अनुसार प्रदोष पूजन करने का शास्त्रीय विधान है। गुरु प्रदोष की पौराणिक कथानुसार एक बार इंद्र व वृत्रासुर की दैत्य सेना में हुए युद्ध में देवों ने दैत्यों को पराजित किया जिससे क्रोधित वृत्रासुर खुद युद्ध में कूद पड़ा। सभी देवता बृहस्पति की शरण में गए। बृहस्पति ने वृत्रासुर का परिचय देते हुए कहा की वृत्रासुर ने गंध-मादन पर्वत पर घोर तप कर शिव को प्रसन्न किया है। पूर्वजन्म में भी वह शिवभक्त चित्ररथ नामक राजा था। जिसने कैलाश यात्रा के समय शिव के वाम अंग में बैठी पार्वती का उपहास कर दिया जिससे क्रोधित पार्वती ने उसे दैत्य रूप धारण करने का श्राप दे दिया। श्राप से ग्रसित दैत्य चित्ररथ ही त्वष्टा ऋषि के तप से उत्पन्न वृत्रासुर बना। इसी कारण इंद्र ने गुरु आज्ञा से गुरु प्रदोष का पालन कर वृत्रासुर का अंत किया। गुरु प्रदोष के व्रत, पूजन और उपाय से शत्रुओं का अंत होता है, दुर्भाग्य से मुक्ति मिलती है व परिजनों का कष्ट नष्ट होता है।

स्पेशल पूजन विधि: शिवालय जाकर शिवलिंग का विधिवत पंचोपचार पूजन करें। गाय के घी में केसर मिलाकर दीपक करें, चंदन की धूप करें, पीत चंदन से त्रिपुंड बनाएं, पीले कनेर के फूल चढ़ाएं, 5 केलों का फलहार चढ़ाएं और बेसन के लड्डू का भोग लगाएं। 

रुद्राक्ष की माला से 108 बार यह विशेष मंत्र जपें। पूजन के बाद भोग प्रसाद स्वरूप सभी में वितरित करें। 

स्पेशल मंत्र:वृं वृत्ता-वृत्त-कराय नमः शिवाय वृं॥
स्पेशल मुहूर्त: शाम 18:50 से शाम 19:50 तक।

उपाय चमत्कार: 
गुड हेल्थ के लिए:
शिवलिंग पर चढ़ी केसर से मस्तक पर तिलक करें। 

गुडलक के लिए:शिवलिंग पर पीला कनेर का फूल चढ़ाकर जेब में रखें।

विवाद टालने के लिए: शिवलिंग पर चढ़े पपीते के 2 टुकड़े करके 2 गरीबों में बांटें।

नुकसान से बचने के लिए: पीले धागे में सफ़ेद फूल पिरोकर शिवलिंग पर चढ़ाएं।

प्रोफेशनल सक्सेस के लिए: शिवलिंग पर चढ़ा मोतीचूर का लड्डू किसी भिखारी को दान करें।

एजुकेशन में सक्सेस के लिए:पीले स्केच पेन से किसी किताब पर "ह्रं" लिखें।

बिज़नेस में सफलता के लिए:शिवलिंग पर चढ़ा पीपल का पत्ता वर्कप्लेस के दरवाजे पर बांधें।

पारिवारिक खुशहाली के लिए: पूजा घर में बैठकर शिव चालीसा का पाठ करें।  

लव लाइफ में सक्सेस के लिए:कागज़ पर पीले स्केच पेन से लवर का नाम लिखकर शिवलिंग पर चढ़ाएं। 

मैरिड लाइफ में सक्सेस के लिए:दंपत्ति शिवालय जाकर "ॐ ग्रहपतये नमः" नमः मंत्र जपें।

स्पेशल टोटके: 
शत्रुओं के अंत के लिए:
भोजपत्र पर केसर से "शत्रुहंता" लिखकर शिवलिंग पर चढ़ाएं।

दुर्भाग्य से मुक्ति के लिए:मौली में पिरोए 12 पीले फूल काले शिवलिंग पर चढ़ाएं। 

परिजनों के कष्ट हरण के लिए: परिजनों का नाम लेते हुए शिवालय में 13 केले चढ़ाकर 13 भिखारियों को दान करें।  

आचार्य कमल नंदलाल
ईमेल: kamal.nandlal@gmail.com

कहीं TV छीन न लें घर की खुशियां (देखें VIDEO)

 

Related Stories:

RELATED Kundli Tv- भाद्रपद शिवरात्रि पर खुलेंगे बंद किस्मत के दरवाज़े