मुस्लिम होकर भी मंदिरों में पूजा करते हैं ये भारतीय क्रिकेटर्स, तीसरा नाम सुनकर हो जाएंगे खुश

नई दिल्लीः कहते हैं कि धर्म से बड़ी होती है आस्था। यही आस्था एक तरफ हमें जीवन की नई राह देती है, तो दूसरी तरफ बेहतर जीवन जीने की प्रेरणा भी देती है। इस राह पर हमें खेल भी आगे बढ़ाता है। हमें ऐसी कई कहानियां सुनने को मिल जाएंगी, जिनमें खिलाड़ी खास तौर पर क्रिकेटर आस्था के चरम पर पहुंचकर लोगों का दिल जीत चुके हैं। आज हम आपको उन भारतीय क्रिकेटरों के बारे में बताते हैं जो हैं तो मुसलमान, लेकिन बात जब टीम की जीत की आई तो उन्होंने मंदिरों में मन्नतें मांगने से भी गुरेज नहीं किया।

1. मोहम्मद कैफ
अब तक के सबसे शानदार फील्डर रहे हैं मोहम्मद कैफ। उन्होंने अपने सादे जीवन से सबको प्रभावित किया। कैफी भी हिंदू धर्म के प्रति आस्था रखते हैं। यही कारण है कि वह कई बार मंदिरों में जाकर भगवान के आगे अपनी इच्छाएं रखते हैं। 

2. मोहम्मद शमी
शमी इस वक्त बुरे हालात से गुजर रहे हैं, क्योंकि उनकी पत्नी हसीन जहां ने उन पर कई संगीन आरोप लगाए थे। इस कारण दोनों अलग भी हो चुके हैं। हालांकि, अदालत ने शमी को निर्दोष साबित कर दिया। शमी उन मुस्लिम क्रिकेट खिलाड़ियों में शामिल हैं जो मंदिर में जाते रहते हैं।

3. जहीर खान
एक दाैर ऐसा भी रहा जब भारतीय टीम के लिए जहीर खान तुरुप का इक्का साबित होते रहे। जहीर को कई बार मंदिरों में पूजा करते हुए देखा गया। उन्होंने जब 23 नवंबर 2017 को बाॅलीवुड एक्ट्रेस सागरिका से शादी की थी तो जश्न खत्म होने के बाद जहीर ने सागिरका के होम टाउन कोल्हापुर में महालक्ष्मी मंदिर में जाकर आशीर्वाद लिया था।

4. इरफान पठान
इरफान भले ही मुस्लिम हों, लेकिन वह हिंदू धर्म का बेहद सम्मान करते हैं। उन्हें कई बार मंदिरों में जाते हुए देखा भी गया है। भले ही इरफान आज टीम से बाहर हों, पर वह अपने दाैर के एक शानदार गेंदबाज हैं। इरफान इकलाैते ऐसे गेंदबाज हैं, जिन्होंने टेस्ट मैच के पहले ही ओवर में हैट्रिक ली थी। 


 

Related Stories:

RELATED मुस्लिम होकर भी मंदिरों में पूजा करते हैं ये भारतीय क्रिकेटर्स, तीसरा नाम सुनकर हो जाएंगे खुश