इनेलो के तीन उम्मीदवारों व ''आप'' के कृष्ण कुमार ने भरा नामांकन, सैलजा ने अंबाला से किया

ब्यूरो: हरियाणा लोकसभा चुनावों के नामांकन के लिए सिर्फ एक बचा है। ऐसे में सभी राजनीतिक दलों के उम्मीदवार जल्द से जल्द अपना नामांकन भर रहे हैं। इसी क्रम में इनेलो के तीन उम्मीदवारों ने अपनी-अपनी सीटों पर नामांकन पत्र दाखिल किया है। वहीं कांग्रेस पार्टी की उम्मीदवार सैलजा कुमारी ने अंबाला से अपना नामांकन दाखिल किया है।

इनेलो के इन उम्मीदवारों ने भरा नामांकन
इनेलो उम्मीदवार चरणजीत सिंह रोड़ी ने सोमवार सिरसा में नामांकन भरा। चरणजीत सिंह रोड़ी के साथ पूर्व नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला सहित अनेक विधायक मौजूद थे।  नामांकन भरने से पहले इनैलो ने सिरसा शहर में रोड शो भी निकाला। इस मौके पर अभय चौटाला ने कांग्रेस सहित दूसरी पार्टियों पर जमकर निशाना साधा। वहीं इनेलो उम्मीदवार चरणजीत सिंह रोड़ी अपनी जीत के प्रति आश्वस्त दिखाई दिए।

फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र से इनेलो उम्मीदवार महेन्द्र चौहान ने अपने दर्जनों समर्थकों के साथ फरीदाबाद सेक्टर 12 लघुसचिवालय में नामांकन दाखिल किया। महेन्द्र चौहान ने कहा कि उनकी टक्कर में कोई भी पार्टी का उम्मीदवार नहीं है, क्योंकि भाजपा ने अपने वायदे पूरे नहीं किये हैं और कांग्रेस को जनता ने पहले ही सत्ता से बाहर कर दिया है।

रोहतक से इनेलो प्रत्याशी धर्मबीर सिंह ने नामांकन दाखिल किया। उनके अभय सिंह चौटाला के बेटे कर्ण सिंह चौटाला मौजूद रहे। कर्ण सिंह ने हुड्डा पर हमला करते हुए कहा कि ये वो लोग है। जिन्होंने रोहतक शहर में सबसे ज्यादा हिंसा फैलाई। वहीं प्रत्याशी धर्मबीर ने कहा उन्होंने अब तक देश सेवा की और अब संसद में लोगों की सेवा करेंगे।

कृष्ण कुमार ने भरा करनाल सीट से नामांकन
आम आदमी और जेजेपी के सांझा उम्मीदवार कृष्ण अग्रवाल ने अपना नामांकन पत्र भरा। कृष्ण अग्रवाल ने कहा आम आदमी पार्टी का शुक्रियादा करते हुए कहा कि पार्टी ने उनके जैसे छोटे-छोटे से कार्यकर्ता पर भरोसा जताया व बड़ी इज्जत दी है। उन्होंने कहा कि पार्टी का भरोसा मजबूत रखेंगे और पूरी मेहनत, साफ छवि के चलते करनाल सीट पर विजय पाएंगे।



वहीं कांग्रेस की अंबाला लोकसभा से प्रत्याशी कुमारी सैलजा ने आज जनसभा की। उसके बाद रोड शो करते हुए नामांकन भरने पहुंची। इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री व सोनीपत से कांग्रेस प्रत्याशी भूपेन्द्र सिंह हुड्डा भी शामिल हुए। कुमारी सैलजा के नामांकन के दौरान कांग्रेस एक जुट दिखी और सभी गुटों के नेता व कार्यकर्ता दिखाई दिए।

Related Stories:

RELATED भगवान कृष्ण की प्रतिमा को घर में रखने से पहले जान लें ये बातें