लव मैरिज के 5 साल बाद विवाहिता ने लगाया फंदा

जालंधर(मृदुल): थाना 2 के अंतर्गत आते लावां मोहल्ला में सुबह उस समय सनसनी फैल गई जब एक महिला ने फंदा लगा जान दे दी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर सिविल अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया है। ए.एस.आई. बिंदर सिंह ने बताया कि फिलहाल धारा-174 की कार्रवाई के तहत शव को रखवाया है व परिवार के बयानों के मुताबिक अगली कार्रवाई की जाएगी। 

ए.एस.आई. ने कहा कि पीड़ित बलराम कुमार ने पुलिस को दिए बयानों में बताया कि वह मूल रूप से यू.पी. के रहने वाले हैं। उसकी निशा (24) के साथ 5 साल पहले लव मैरिज हुई थी। शादी के बाद वे दोनों जालंधर आ गए थे। उसकी पत्नी निशा सिलाई का काम करती थी जबकि वह खुद मॉडल टाऊन में एक शोरूम में काम करता है। वह सुबह रोज की तरह नाश्ता करके अपने कमरे में बच्चों के साथ फिल्म देख रहा था। जब करीब 2 घंटे बाद अपने कमरे से बाहर निकल दूसरे कमरे की ओर गया तो दरवाजा अंदर से बंद था। जब लोगों को बुलाकर दरवाजा तोड़ा तो देखा कि पत्नी ने फंदा लगाया हुआ था जिस पर उसने पुलिस को सूचित किया। बलराम के मुताबिक निशा को अपने मायके परिवार की याद सताती थी मगर लव मैरिज के बाद मायके वालों द्वारा नाता तोडऩे के कारण वह काफी दिनों से परेशान थी, शायद इसी कारण उसने यह कदम उठाया हो। 

पत्नी ने पति को व्हाट्सएप पर किया ब्लॉक, बिना बताए शुरू कर रखा था जिम 
ए.एस.आई. ङ्क्षबदर सिंह ने बताया कि निशा की अपने पति बलराम के साथ काफी दिनों से कहा-सुनी हो रही थी जिसको लेकर गुस्से में आकर निशा ने पति को व्हाट्सएप पर ब्लॉक कर रखा था और पति को बिना बताए जिम भी शुरू कर रखा था। मामले को लेकर पुलिस द्वारा जांच की जा रही है। 

3 साल की बेटी के सिर से उठा मां का साया  
बलराम कुमार का कहना है कि निशा को उक्त कदम उठाने से पहले अपनी 3 साल की बेटी के बारे में सोचना चाहिए था। अब निशा की मौत के कारण बेटी के सिर से मां का साया उठ गया है। 

Related Stories:

RELATED विवाहिता ने फंदा लगा कर की आत्म हत्या