केंद्र का एक्साइज ड्यूटी घटाने से इंकार, राज्य सरकारें पेट्रोल-डीजल पर वैट करें कम

नई दिल्लीः पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार हो रही वृद्दि के खिलाफ कांग्रेस व विपक्षी दलों द्वारा आज भारत बंद किए जाने के बावजूद सरकार ने स्पष्ट कह दिया है कि वह इन दोनों पेट्रोलियम पदार्थों पर एक्साइज ड्यूटी नहीं घटाएगी। सरकार ने कहा है कि राज्यों का यह कर्तव्य बनता है कि वह इन पर वैट घटा कर लोगों को राहत दें।

सूत्रों का कहना है सुबह भापजा अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी हेडक्वार्टर में पेट्रोलियम मंत्री से मुलाकात की और पेट्रोलियम पदार्थों के बढ़ रहे मूल्यों पर चर्चा की। सरकार ने कहा कि अगर पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी कम की गई तो वित्तिय घाटा और बढ़ जाएगा, पर सरकार ऐसा नहीं चाहती। इसलिए इन पर एक्साइज ड्यूटी कम नहीं होगी।

दूसरी तरफ महाराष्ट्र सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर वैट कम करने का संकेत दिया है कि मुख्य मंत्री लोगों को राहत देने के लिए सभी विकल्पों का विचार कर रहे हैं। इसी बीच आंध्र प्रदेश सरकार ने पैट्रोल-डीजल पर वैट कम करते हुए 2 रुपए की छूट दी है। इससे पूर्व राजस्थान सरकार ने चुनावी वर्ष होने के कारण लोगों को राहत देने के लिए रविवार को ही वैट में 4 फीसदी की छूट दोने की घोषणा कर दी। जिससे पेट्रोल-डीजल में 2 से अढ़ाई रुपए प्रति लीटर की कटौती होगी।

× RELATED तेल की कीमतों में लगी आग, आज फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम