गणतंत्रता दिवस पर आतंकवादी हमले की चेतावनी, हाई अलर्ट जारी

नेशनल डेस्क: खुफिया एजेंसियों ने गणतंत्रता दिवस के मौके पर जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी हमले की चेतावनी जारी की है। खुफिया एजेंसी से जुड़े एक सूत्र ने बुधवार को बताया कि जैश-ए- मोहम्मद के विदेशी आतंकवादी गणतंत्रता दिवस के मौके पर जम्मू-कश्मीर में बड़े आतंकवादी हमले को अंजाम देने की योजना बना रहे हैं। सूत्र ने बताया कि पुख्ता जानकारी मिली है कि जैश जम्मू-कश्मीर में बड़े आतंकवादी हमलों या बम विस्फोटों को अंजाम देने की कोशिश कर रहा है।


जैश के आतंकवादी राज्य में ‘फिदायीन’ हमले को भी अंजाम दे सकते हैं।’’ इस पूरी योजना की देख-रेख वर्ष 2008 में हुए मुंबई आतंकवादी हमले के मुख्य साजिशकर्ता मौलाना मसूद अजहर के भाई एवं जैश कमांडर मुफ्ती अब्दुल राउफ असगर कर रहा है। सुरक्षा एजेंसियों ने भी पुष्टि की है कि सीमा पार के आतंकवादी इस साल 26 जनवरी से पहले या 26 जनवरी को कुछ बड़ा करने की योजना बना रहे हैं।

जैश जम्मू-कश्मीर में अपना पैर जमाने के लिए बेचैन है, क्योंकि सुरक्षा बलों ने 2018 में घाटी में दो सौ से अधिक आतंकवादियों को मार गिराया है। सूत्र ने कहा कि सेना सहित सभी सुरक्षा बलों को राज्य में 26 जनवरी को देखते हुए हाई अलर्ट पर रहने को कहा गया है।’’ उल्लेखनीय है कि मौलाना मसूद अजहर तथा राउफ असगर पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में रहते हैं और भारत के खिलाफ अभियान चलाते हैं।

Related Stories:

RELATED पुलवामा आंतकवादी हमला: चीख पुकारों से गूंज उठा ज्वाली