तेलंगाना बस हादसा: एक गलती ने ले ली 59 लोगों की जान

नेशनल डेस्क: तेेलंगाना के जगतियाल जिले में मंगलवार को एक दर्दनाक हादसा हुआ। परिवहन निगम की एक बस के गहरी खाई में गिरने से 59 लोगों ​की जान चली गई और 40 से अधिक लोग घायल हो गए। वहीं, इस हादसे की पीछे एक बड़ी वजह सामने आई है। दरअसल, इस बस की क्षमता 59 यात्रियों की थी, लेकिन इसमें 101 यात्रियों को ले जाया जा रहा था। इसलिए ओवरलोडिंग भी इस हादसे का बड़ा कारण माना जा रहा है। 


निगम की यह बस मंगलवार को कोंडागट्टू के हनुमान मंदिर से जगतियाल जा रही थी। हैदराबाद से करीब 200 किलोमीटर दूर शनिवारपेट गांव के नजदीक घाट रोड पर सुबह साढ़े ग्यारह बजे के करीब बस फिसल कर घाटी में गिर गयी। सड़क पर ढलान थी और वहां बस मोड़ते समय बस के ब्रेक फेल हुए और वह खाई में गिर गई।

जब बस ब्रेकर से टकराई तो चालक का गाड़ी से नियंत्रण खो गया और बस चार बार पलटी खाती हुई खाई में जा गिरी। ज्यादातर यात्रियों की एक-दूसरे पर गिरने से दम घुटने की वजह से मौत हो गई। इस हादसे में 39 महिलाओं और पांच बच्चों समेत कुल 59 लोग मारे गए और 40 से अधिक घायल हुए हैं। 


वहीं, जगतियाल डिपो मैनेजर हनुमंता राव को हादसे के बाद निलंबित कर दिया गया। प्रदेश सरकार ने हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को 5 लाख रुपए मुआवजा देने का एलान किया है। वहीं, टीएसआरटीसी ने 3 लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की है। 
 

Related Stories:

RELATED कैलाश मानसरोवर यात्रियों को राज्य सरकार का तोहफा, अनुदान राशि को किया दोगुना