तमिलनाडु: गाजा तूफान के प्रचंड होने की आशंका, कभी भी दे सकता है दस्तक

नेशनल डेस्कःगाजा तूफान के आज यानी गुरुवार देर रात दक्षिण तमिलनाडु तट पार करने की उम्मीद है। जिन इलाकों से इसके गुजरने का अनुमान है, वहां हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। मौसम विभाग के उप महानिदेशक एस बालाचंद्रन ने बताया कि नागपट्टिनम और पड़ोस के पुडुचेरी में कराईकल से करीब 140 किलोमीटर दूर खाड़ी के ऊपर गुजर रहे तूफान के गुरुवार की रात कुड्डालोर और पामबन के बीच तट पार करने का अनुमान है, जिसके बाद यह कमजोर हो जाएगा।



तूफान के पहुंचने के दौरान इसकी रफ्तार 80-90 किलोमीटर प्रति घंटे तक रहने का अनुमान जताया गया है। इसके बाद इसकी रफ्तार 100 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुंच सकती है। तूफान से पहले तमिलनाडु के कई इलाकों में बारिश शुरू हो गई है।



नागपट्टिनम और अन्य जिले में निचले इलाके में रहने वालों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा जा गया है। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) और राज्य बल की टीमों को तैनात किया गया है। वहीं तमिलनाडु सरकार पहले ही 30,500 बचावकर्मी तैनात करने की घोषणा कर चुकी है। तंजौर, तिरुवरुर, पुडुकोट्टई, नागपट्टिनम, कुड्डलोर और रामनाथपुरम के कलेक्टरों ने स्कूलों और कॉलेजों की छुट्टी कर दी गई है। साथ ही भारतीय नौसेना को दक्षिण तमिलनाडु और पुडुचेरी के तटों पर हाई अलर्ट कर दिया गया है।


नौसेना के एक अधिकारी ने बताया कि दौ भारतीय नौसैनिक जहाज रणवीर और खंजर मानवीय सहायता और संकट राहत के लिए सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्रों में आगे बढ़ने के लिए खड़े हैं। उन्होंने बताया कि इन जहाजों में अतिरिक्त गोताखोर, डॉक्टर, हवा वाली रबड़ की नाव, हेलीकॉप्टर और राहत सामग्री तैयार है।


 

 

Related Stories:

RELATED तमिलनाडु स्कूलों में बच्चों के चेहरे को पढ़ कर दर्ज होगी उपस्थिति