म्यूजिक कॉन्सर्ट में सेक्सुअल अटैक से बचने को अपनाया ये तरीका, महिलाओं ने जमकर किया इंजॉय

गुट्नबर्गः म्यूजिक फेस्टिवल में होने  वाले हमलों से बचने के लिए स्वीडन में सिर्फ महिलाओं का म्यूजिक कॉन्सर्ट आयोजित किया गया। महिलाओं पर होने वाले सेक्स हमले के कारण इस कॉन्सर्ट में पुरुषों की एंट्री बैन रखी गई। फेस्टिवल में बड़ी संख्या में महिलाओं ने हिस्सा लिया और जमकर इंजॉय किया। 

एक स्टूडेंट ने कहा, 'फेस्टिवल में पिछले साल कई सेक्सुअल असॉल्ट की घटनाएं हुईं। ऐसी घटनाओं के विरोध में यह आयोजन किया गया है। यह फेस्टिवल आज की जरूरत है और इसलिए हमने इसका आयोजन किया।' स्वीडन + के गुट्नबर्ग में 2 दिनों का स्टेटमेंट फेस्टिवल आयोजित हुआ और इसमें पुरुषों की एंट्री बैन थी, लेकिन ट्रांसजेंडरों को आने की छूट थी। 

फेस्टिवल की शुरुआत करनेवाली हास्य कलाकार एमा किनिकार ने ट्वीट किया, 'एक ऐसा फेस्टिवल जिसमें पुरुषों की एंट्री बैन है, सोचकर कैसा लग रहा है? सिर्फ जो पुरुष नहीं हैं वही इस फेस्टिवल का हिस्सा हो सकते हैं और तब तक जब तक कि दुनिया के मर्द सभ्य व्यवहार करना नहीं सीख जाते हैं।' इस फेस्टिवल में महिला सुरक्षा गार्ड ही थे और महिलाओं के ही बैंड ने परफॉर्म किया। फेस्टिवल के लिए रकम जुटाने का काम क्राउड फंडिंग से किया गया। 

Related Stories:

RELATED Amazing! दुनिया के 6 ऐसे देश जहां कभी नहीं होती रात