लंबी से भागा कैप्टन इसलिए हम पटियाला आ रहे हैं : सुखबीर

बादल/श्रीमुक्तसर साहिब/मलोट (इंट, तनेजा, जुनेजा): शिरोमणि अकाली दल राज्य में अभी सम्पूर्ण हुए जिला परिषद व ब्लाक समिति चुनावों दौरान कांग्रेस पार्टी, सरकारी मशीनरी व पंजाब चुनाव आयोग द्वारा किए गए लोकतंत्र के कत्ल का पर्दाफाश करने के लिए 7 अक्तूबर को पटियाला में रैली करेगा। शिरोमणि अकाली दल की कोर कमेटी द्वारा पास किए एक प्रस्ताव में कहा गया कि लोकतंत्र का मजाक बनाने के लिए एस.पी., डी.सी., एस.डी.एम. व तहसीलदारों ने कांग्रेस के चुनाव कार्यकर्ताओं की तरह काम किया।

इस मीटिंग की अध्यक्षता शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने की, जिसमें अन्य नेताओं के अलावा पार्टी के सरपरस्त व पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने भी विशेष तौर पर भाग लिया। मीटिंग के बाद सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि हमने कैप्टन अमरेंद्र सिंह का बहुत इंतजार किया कि वह लंबी में रैली की तारीख का ऐलान करेंगे, पर लगता है कि उसकी हवा निकल गई है। इसलिए अब हम पटियाला आ रहे हैं। मीटिंग में लिए फैसले की जानकारी देते हुए पार्टी के प्रमुख प्रवक्ता श्री हरचरण बैंस ने कहा कि चुनाव दौरान धक्केशाही को उजागर करने के अलावा यह रैली लोगों की मुसीबतों को हल करवाने के लिए सरकार पर दबाव डालेगी।

कोर कमेटी द्वारा पास प्रस्ताव से सभी ने एकमत होकर कहा कि पंजाब एक भ्रष्ट, निकम्मी व लापरवाह सरकार की व्यथा झेल रहा है, जोफरवरी-2017 चुनावों की प्रचार मुहिम के दौरान लोगों से किए सारे वायदों से मुकर गई है। इस सरकार ने राज्य में प्रशासन, विकास व समाज भलाई की गतिविधियों को पूरी तरह से ठप्प कर दिया है। अकाली दल द्वारा सत्ताधारी पार्टी की चुनाव घोषणा पत्र में किए वायदों के लिए जवाबदेही तय करने हेतु यह पहली रैली होगी। इन वायदों में किसान तथा मजदूरों का सारा कर्जा माफ  करना, शगुन स्कीम की राशि बढ़ाकर 51 हजार रुपए करना, बुढ़ापा पैंशन की राशि बढ़ाकर 2500 रुपए प्रति महीना करना, राज्य के हर घर को एक नौकरी देना, गरीब परिवारों को 5 मरला प्लाट तथा नि:शुल्क घर देना, गरीबों को नि:शुल्क फोन देना आदि शामिल हैं।

बैंस ने बताया कि एक अन्य फैसले में शिअद ने श्री गुरु नानक देव जी के 550वें समारोह की शुरूआत करने के लिए इस साल 17 नवम्बर शाम को सुल्तानपुर लोधी में एक कीर्तन दरबार व धार्मिक समागम करवाने का फैसला किया है। गुरबाणी के प्रख्यात कथावाचक व प्रसिद्ध रागी शाम को गुरबाणी रस से सिख संगत को निहाल करेंगे। कोर कमेटी की इस मीटिंग में सुखदेव सिंह ढींडसा, रणजीत सिंह ब्रह्मपुरा, बलविंद्र सिंह, जत्थेदार गोबिंद सिंह लौंगोवाल, चरणजीत सिंह अटवाल, जत्थेदार तोता सिंह व बीबी जागीर कौर आदि मौजूद रहे।

Related Stories:

RELATED सुखबीर बादल डर के मारे Sports जूते की पॉलिश करता रहा: दादूवाल