तेजस्वी यादव का हमला, कहा- भाजपा और आरएसएस द्वारा स्पॉन्सर था सवर्णों का भारत बंद

पटनाः पटनाः बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने कहा है कि सवर्णों का भारत बंद भाजपा और आरएसएस द्वारा स्पॉन्सर था। भाजपा और आरएसएस के लोग देश के सबसे बड़े जातिवादी लोग हैं। पटना में पार्टी की बैठक के बाद तेजस्वी ने सवर्णों के भारत बंद और सोमवार को आयोजित भारत बंद पर अपना पक्ष रखा। उन्होंने कहा कि एससी-एसटी एक्ट के साथ हमारी पार्टी मजबूती से खड़ी है और आगे भी खड़ी रहेगी।

आरक्षण पर तेजस्वी ने कहा कि आबादी के हिसाब से आरक्षण होना चाहिए लेकिन जातीय जनगणना को भाजपा सरकार ने छिपा कर रखा हुआ है। उन्होंने जातीय जनगणना को सार्वजनिक करने की भी मांग की और कहा कि सरकार की मंशा आरक्षण और संविधान विरोधी है।

तेजस्वी ने सवर्णों के भारत बंद पर टिप्पणी करते हुए कहा कि ये बंद बीजेपी और आरएसएस का स्पॉन्सर था। देश में आरक्षण को खत्म करने की एनडीए बड़ी साजिश रच रही है जिसे अब हम सभी समझ गए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार की इस मंशा को हम किसी कीमत पर पूरा होने नहीं देंगे। बीजेपी भारत बंद के जरिये दलितों-पिछड़ों को लड़ाने की कोशिश में है। 

नीतीश सरकार पर हमला करते हुए तेजस्वी ने कहा कि राज्य में अपराध चरम सीमा पर है। उन्होंने कहा कि सीएम नीतीश कुमार को केवल अपनी कुर्सी से प्यार है। मंगलवार को बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास पर राजद की बैठक हुई। इस बैठक में 2019 के लोकसभा चुनावों को लेकर सीट बंटवारे पर चर्चा की गई। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED बाल गृह मामलाः डबल मर्डर का मास्‍टरमाइंड गिरफ्तार, बदला लेने की नीयत से करवाई थी हत्या