गुरुवार के दिन कर लें ये 1 उपाय, फिर देखें कमाल

ये नहीं देखा तो क्या देखा (VIDEO)
अक्सर सुनने में आता है कि कुंडली के दोषों की वजह से व्यक्ति के जीवन में बहुत सी परेशानिया खड़ी हो जाती हैं। मगर इनमें से लगभग लोगो को ये समझ नहीं आता कि इन दोषों को ठीक करने के लिए क्या किया जाए तो। तो आपको बता दें कि हम आपकी इस समस्या का समाधान लेकर आएं हैं। जिन लोगों की कुंडली में किसी भी प्रकार के दोष हैं तो गुरुवार के दिन कुछ उपाय करने से उन सभी दोषों से छुटकारा पाया जा सकता है। तो अगर किसी के जातक जीवन में  विवाह, नौकरी या भाग्य संबंधित किसी तरह की बाधा हो तो गुरुवार के दिन ये उपाय ज़रूर करें। कभी-कभी कुंडली में गुरु ग्रह के दोष के कारण भी अनूकुल स्थितियां होते हुए भी अनेक समस्याएं उत्पन्न होती हैं। 
PunjabKesari, Jyotish Kundli, कुंडली, ज्योतिष कुंडली
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, गुरु दोष की शांति के लिए अगर गुरुवार के दिन कुछ विशेष उपाय किए जाए तो व्यक्ति को हर काम में सफलता मिलने लगती है। क्योंकि गुरुवार का दिन देवताओं के भी गुरु ब्रहस्पति देव का दिन होता है, गुरु ग्रह वैवाहिक जीवन और भाग्य का कारक ग्रह माना जाता है।

गुरु ग्रह दोष से पीड़ित व्यक्ति गुरुवार के दिन सुबह स्नान के पानी में एक चुटकी हल्दी डालकर स्नान करें। स्नान के बाद घर के पूजा स्थल पर श्री हरि के समक्ष घी का दीपक जलाएं, उपवास करें और पीले कुश के आसन पर बैठकर "ॐ नमो भगवते वासुदेवाय" मंत्र का 108 बार जप करें। पूजा के बाद विष्णु सहस्रनाम का पाठ करें, जप के बाद यही मंत्र बोलते हुए केसर का तिलक माथे पर लगाएं और केले के वृक्ष में जल अर्पित कर धूप- दीप से पूजा करें।
PunjabKesari, हल्दी, Haldi, Turmeric
गुरुवार को किसी प्राचीन शिव जी के मंदिर में जाकर भोले बाबा को बेसन के लड्डू का भोग लगाएं, ऐसा करने से आप पर शिव जी की कृपा होगी। गुरु ग्रह को शांत करने के लिए गुरुवार के दिन व्रत रखें और पीले रंग के कपड़े पहनें, बिना नमक का बना भोजन करें और किसी गरीब व्यक्ति को पीली वस्तुओं का दान करें। 

गुरुवार के अलावा भी प्रतिदिन कम से कम 108 बार गुरु मंत्र- ॐ  बृं बृहस्पते नम: का जप अवश्य करें और सूर्यास्त के समय केले के वृक्ष के नीचे गाय के घी का दीपक जलाकर रखें।शीघ्र विवाह की कामना रखने वाले व्यक्ति गुरुवार के दिन गाय को दो आटे के पेड़े पर थोड़ी हल्दी लगाकर खिलाएं। साथ ही थोड़ा गुड व चने की पीली दाल का भोग भी लगाएं। गुरु ग्रह की कृपा से शीघ्र ही विवाह के योग बनेंगे।
PunjabKesari, Mantra, मंत्र, गुरू मंत्र

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!