सोशल एप बीगो पर हुई दोस्ती, प्यार, सेक्स फिर धोखा

नई दिल्ली(नवोदय टाइम्स): सोशल मीडिया एप बीगो पर चैटिंग के दौरान पहले दोस्ती हुई फिर हो गया प्यार। इसी प्यार की आड़ में युवक ने महिला से शारीरिक संबंध और एक साल तक शोषण किया। व्यक्ति की चालबाजी यहीं तक नहीं रुकी,उसने महिला को झांसा दिया और उसके बाद उससे 12 लाख रुपए ठग लिए। पीड़िता ने जब शादी की बात की तो युवक ने धर्मपरिवर्तन की शर्त रख दी। पीड़िता उस बात को भी मान गई,लेकिन युवक उससे पीछा छुड़ाने लगा और धमकाने लगा कि अगर उसने किसी से भी ये बातें कही तो उसकी अश्लील तस्वीरों के जरिए उसे सोशल मीडिया पर बदनाम कर देगा। ये कारनामा जम्मू-कश्मीर पुलिस में तैनात कांस्टेबल आदिल हसन ने किया। हद तो तब हुई जब पीड़िता ने इस प्रकरण से संबंधित शिकायत 1 अगस्त वसतकुंज नॉर्थ थाने में करा दी,लेकिन कार्रवाई की जगह पुलिस ने भी चुप्पी साध ली। 

महिला ने लिया सोशल मीडिया का सहारा
आखिरकार महिला ने सोशल मीडिया का सहारा लिया, जिसके बाद पुलिस हरकत में आई। मामले में स्वयं पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक ने जांच के आदेश दिए हैं। पुलिस ने मामले को लवजिहाद से जुड़ा होने पर इनकार किया है। रिकी बहल की तर्ज पर कांस्टेबल ने फंसाया लड़की को, और भी हुई इसका शिकार: पीड़िता ने सोशल मीडिया पर अपने दर्द को बयां करते हुए कहा कि जब उसने युवक की मोबाइल डिटेल को खुद खंगलवाया और जांच करवाई तो पता चला कि उसने इस तरह उसे ही नहीं बल्कि कई लोगों को फंसाया है। जिसके बाद वह थाने पहुंची लेकिन यहां पर भी उसकी सुनवाई नहीं हुई। बता दें कि पीड़िता छतरपुर के राजपुर खुर्द इलाके में रहती है और मूल रूप से इटावा (यूपी) की रहने वाली है।

एक अंजान फोन ने खोल दिया कांस्टेबल का पूरा राज 
नई दिल्ली, 5 सितम्बर (मुकेश ठाकुर): पीड़िता ने बताया कि उसे अपने पूर्व  प्रेमी के कारनामों की जानकारी उस समय  लगी जब वह खुद महिपालपुर के एक होटल में उसके साथ थी। इसी दौरान आरोपी किसी काम से कमरे से बाहर गया। तभी उसके मोबाइल पर किसी लड़की का फोन आया। जब पीड़िता ने फोन उठाया तो उसने बताया कि वह उसकी गर्ल फ्रेंड है और उससे शादी करने वाला है। साथ ही यह भी बताया कि वह किसी व्यापारिक घराने से नहीं है, बल्कि वह जम्मू-कश्मीर में कांस्टेबल है। संदेह होने पर पीड़िता ने उसके मोबाइल से उस लड़की के नंबर के साथ ही लड़कियों के नाम से सेव अन्य नंबर भी नोट कर लिया। इसी दौरान पीड़िता ने आरोपी को एक लड़की के साथ देख लिया, पूछने पर उसने बताया कि वह उसकी चचेरी बहन है, जो दिल्ली आई हुई है। जब पीड़िता ने ज्यादा पूछताछ की तो उसे कमरे से यह कहकर निकाल दिया कि उसे तुरंत कश्मीर निकलना है। 

कई लड़कियों को फंसा चुका है अपनी जाल में
आरोपी के उस हरकत से पीड़िता का संदेह पक्का हो गया। उसने उन नंबरों पर फोन किया जिसे उसने आरोपी के मोबाइल से लिया था, तो पता चला कि वो कई लड़कियों के साथ ऐसा धोखा कर चुका है। वह कभी मुम्बई  तो कभी देहरादून तो कभी मलेशिया घूमता रहता है। हर जगह लड़कियों से दोस्ती कर अपने को अमीर परिवार का बताता है। वह लड़कियों के साथ विदेश भी जा चुका है। उन्हीं से आरोपी के घर का पता निकाल पीड़िता कश्मीर स्थित उसके घर पहुंच गई। जहां पहुंचने पर उसे पता चला कि आज तक उसने अपने परिवार में उसकी चर्चा तक नहीं की है। इसके बाद भी पीड़िता आदिल से संपर्क कर उसे शादी करने के लिए मनाती रही, पर उल्टा आरोपी ने शादी करने से इनकार ही नहीं किया बल्कि उससे और रुपए मांगने लगा, नहीं तो उसके अश्लील फोटो को वायरल करने की धमकी देने लगा।

ऐसे शुरू हुई दोस्ती और शुरू हुआ कांस्टेबल का कारनामा 
जनवरी 2017 में उसकी ऑनलाइन बीगो चैटिंग एप के जरिए जम्मू-कश्मीर के रहने वाले आदिल हसन नामक युवक से दोस्ती हुई थी। उसी पर दोनों ने एक दूसरे को मोबाइल नंबर दिए। जिसके माध्यम से दोनों ने एक दूसरे से बातचीत शुरू कर दी। आरोपी ने पीड़िता को बताया कि वह कश्मीर के बड़े व्यापारिक घराने से संबंध रखता है। उसके परिवार का देश-विदेश में प्रसिद्ध पशमीना शॉल आपूर्ति का कारोबार है। आदिल ने बताया कि उसका परिवार उसके लिए लड़की ढूंढ़ रहा है और वह पीड़िता को पसंद करता है। आदिल ने अप्रैल 2017 में पीड़िता को शादी के लिए प्रपोज किया। युवती ने भी फोन पर हामी भर दी और दिल्ली आकर उसके परिवार से बात करने को कहा। आरोपी दिल्ली पहुंच पीड़िता के परिवार से मिला और परिवार के लोग भी दोनों की शादी को लेकर राजी हो गए। 

अलग-अलग होटलों में बनाता था शारीरिक संबंध
आरोपी ने पीड़िता को बताया कि उसके परिवार के लोग हिंदू लड़की से शादी को राजी नहीं हंै। उन्हें मनाने में कुछ समय लगेगा। इसके बाद वह व्यापार के बहाने दिल्ली आता और पीड़िता को अलग-अलग होटलों में मिलने के लिए बुलाकर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाता था। इसी दौरान आरोपी ने पीड़िता से कहा कि वह खुद का निर्यात का काम शुरू करना चाहता है, ताकि खुद के पैर पर खड़ा होकर उससे शादी कर सके। लेकिन, रुपए की कमी है। उसने पीड़िता से मदद करने को कहा। पीड़िता ने भी उस पर विश्वास कर अलग-अलग माध्यमों से उसके खाते में करीब 11 लाख 98 हजार 500 रुपए डाल दिए, जोकि उसके माता-पिता ने उसकी शादी के लिए जमा कर रखा था। रुपए लेने के बाद भी वह कई बार दिल्ली आया, उस दौरान जब भी पीड़िता शादी के लिए बात करती वह व्यापार सही से शुरू हो जाने पर शादी करने की बात कह टाल जाता। 


 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!