आरिफ मसूद के बयान पर सियासी बवाल, शिवराज बोले-कहीं अपने ही न गिरा दें सरकार

भोपाल: कांग्रेस नेता द्वारा सीएम कमलनाथ की बैठक में दिए गए धमकी भरे बयान के बाद पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पलटवार किया है। शिवराज सिंह ने कमलनाथ पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस अपनों के विरोध की चिंता करे, कहीं उनके लोग ही उनकी सरकार न गिरा दें। उन्होंने कहा कि हमने कभी फ्लोर टेस्ट की मांग नही की, भाजपा गिराने की राजनीति नहीं करती। हम खरीद फरोख्त पर विश्वास नहीं करते, हम सिद्धान्तों पर राजनीति करते है। 



पत्रकार वार्ता में शिवराज ने कहा अभी हमने एक वीडियो देखा जिसमें भोपाल से कांग्रेस के एक विधायक मुख्यमंत्री कमलनाथ को धमकी दे रहे हैं कि डीजी जेल को हटाओ वरना हम देख लेंगे। कांग्रेस का एक विधायक आतंकवादियों की पैरवी कर रहा है, बाहर से जेल में सामान भेजना चाहता है, अब जेल की सुरक्षा रखनी पड़ेगी। उन्होंने सीएम कमलनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कांग्रेस हम पर सरकार गिराने व विधायकों की खरीद फरोख्त के आरोप लगा रही है जबकि उनका विधायक सीएम तक को धमकी दे रहा है।
|


शिवराज सिंह ने किसान कर्जमाफी पर सवाल उठाते हुए कहा कि पहले कमलनाथ ने सभी किसानों का कर्जमाफ करने का वायदा किया था लेकिन बाद में अल्पकालीन फसली ऋण माफ होगा लेकिन पता नहीं बाद में किस अधिकारी के कहने पर अपना निर्णय बदल लिया। उन्होंने कहा कि 23 मई को पता चल जाएगा कि कौन सच व कौन झूठ बोल रहा है।







 

Related Stories:

RELATED कमलानाथ के मंत्री का बड़ा बयान, अपनी ही पार्टी को बताया कमजोर