शिवपाल का अखिलेश पर तंज- पांडवों ने कौरवों से 5 गांव मांगा था, हमने तो सिर्फ सम्मान मांगा

लखनऊः सेक्युलर माेर्चे का गठन करने वाले शिवपाल यादव ने महाभारत का जिक्र करते हुए अखिलेश यादव की तुलना कौरवों से की है। उन्होंने कहा कि पांडवों ने कौरवों से 5 गांव मांगा था। मैंने तो सिर्फ सम्मान मांगा था। उन्होंने कहा कि वह समाजवादी सेक्युलर मोर्चे के साथ आगे बढ़ेंगे। लंबे इंतजार के बाद यह कदम उठाया है। अब कदम पीछे नही खीचेंगे।

सत्ता पाकर लोगों में आ जाता है अभिमान 
शिवपाल ने कहा कि सत्ता पाकर लोगों में अभिमान आ जाता है। रावण, कंस और दुर्योधन को भी अभिमान आया था, तो फिर अहंकारी का नाश ही होता है। मैंने कभी कोई पद नहीं मांगा। कभी राजनीति में आने की नहीं सोची, लेकिन राजनीति में आना पड़ा। तब लोग बेईमान नहीं थे। अब बहुत से लोग बिना मेहनत के सब कुछ चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि जब मैं हाईस्कूल में था तब से नेताजी के साथ काम करने लगा। चुनाव में कई-कई किलोमीटर साइकिल चलाकर नेताजी का प्रचार करता था। आज लोग एक थोड़ी सी साइकिल चलाकर उसका फायदा लेने की कोशिश करते हैं। बता दें कि, शिवपाल यादव राजधानी लखनऊ में श्रीकृष्ण वाहिनी के कार्यक्रम में पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने यह सब बातें कहीं। 
 

Related Stories:

RELATED जन्मदिन के बहाने मुलायम से अपनत्व जताने की सपा-प्रसपा में मची होड़