लोकसभा मतगणना को लेकर सुरक्षा के किए गए पुख्ता प्रबंध

गुरुग्राम(आकाश खुराना): 2019 के लोकसभा चुनावों के बाद अब मतगणना को लेकर तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई है। गुरुग्राम लोकसभा क्षेत्र की मतगणना के लिए भी चुनाव आयोग ने 5 ऑबजर्वर नियुक्त कर दिए हैं जो कि मतगणना की निगरानी करेंगे । गुरुग्राम लोकसभा की मतगणना 23 मई को सुबह 8 बजे से शुरु हो जाएगी और अनुमान है कि फाइनल रिजल्ट रात करीब 8 बजे तक आएगा। लोकसभा चुनावों की मतगणना के लिए खास तैयारियां की गई है।



गुरुग्राम लोकसभा के अंतर्गत 9 विधानसभाएं आती है जिनमें अलग अलग राउंड में काउंटिग की जाएगी। सबसे ज्यादा राउंड बादशाहपुर विधानसभा और पुन्हाना विधानसभा में होंगे जिसमें कुल 25 राउंड किए जाएंगे जबकि सबसे कम नूंह विधानसभा में कुल 14 राउंड किए जाएंगे। वहीं हर विधानसभा में एक राउंड के लिए 14 टेबल लगाई गई है, जिसमें एक बार में 14 ईवीएम की गिनती की जाएगी। बादशाहपुर विधानसभा पूरे हरियाणा में सबसे ज्यादा वोटर्स हैं।



इसीलिए यहां 25 राउंड में मतगणना की जाएगी जबकि पुन्हाना में 8 टेबल लगाई गई है इसीलिए यहां पर भी 25 राउंड में मतगणना की जाएगी। बता दें बावल विधानसभा क्षेत्र में गिनती 19 राउंड में होगी, रेवाड़ी विधानसभा में 18 राउंड, पटौदी विधानसभा में 18 राउंड, गुड़गांव विधानसभा में 23 राउंड, सोहना विधानसभा में 17 राउंड और फिरोजपुर झिरका में वोटों की गिनती 18 राउंड में पूरी होगी।



गुरुग्राम जिले की चार विधानसभाओं के स्ट्रॉंग रुम सेक्टर 14 गर्ल्स कॉलेज में बनाया गया है। इसी तरह मेवात की तीन विधानसभाओं के लिए नूंह में और रेवाड़ी की दो विधानसभाओं के लिए रेवाड़ी में स्ट्रॉंग रुम बनाए गए हैं जहां पर मतगणना की जाएगी ।

मतगणना को लेकर कैथल में बनाये गए 4 विधानसभाओं के 2 काउंटिंग सेंटर
कैथल(जोगिंद्र): 23 मई को जिला कैथल के लोकसभा मतगणना को लेकर चारों विधानसभा के अलग अलग मतगणना केंद्र बनाये गए हैं। जिसमें कैथल के आर के एसडी स्कूल व कॉलेज में एक काउंटिंग स्टेशन बनाया गया है और दूसरा काउंटिंग स्टेशन आएजी कॉलेज व स्कूल में बनाया गया है। वहीं जिला प्रशासन द्वारा मतगणना को लेकर पूरी तैयारियां चल रही हैं। सुरक्षा को लेकर पुलिस ने पुख्ता प्रबंध किए गए हैं।



डीएसपी कुलवंत सिंह ने बताया कि कैथल में चार विधानसभा की मतगणना 23 मई को होगी जिस को लेकर पुलिस ने जगह-जगह नाके लगाए हैं। साथ ही ढांड, अम्बाला व करनाल रोड़ को बंद करके रूट को डाइवर्ट कर दिया गया है। किसी को भी बिना इजाजत के अंदर जाने की अनुमति नहीं होगी और चेकिंग के बाद ही अंदर जाने दिया जाएगा।



वहीं चुनाव इंचार्ज शमशेर सिंह ने बताया की सुबह साढ़े 7 बजे सभी पॉलिटिकल पार्टियों की उपस्थिति में स्ट्रांग रूम की सील खोली जायेगी और 8 बजे मतगणना शुरू हो जायेगी। जिसमें हर मतगणना केंद्र पर 14 टेबल लगाईं गई हैं व एक टेबल आरओ के लिए लगाई गई है। पहली बार कंट्रोल यूनिट के साथ वीवीपैट जोड़ी गई है। हर विधानसभा क्षेत्र से पांच वीवीपैट की गिनती जायेगी जिसके बाद ही अंतिम परिणाम दिया जाएगा।

Related Stories:

RELATED घल्लूघारा दिवस को लेकर पुलिस ने किए कड़े सुरक्षा प्रबंध