भारत में जल्द ही प्राथमिकता के आधार पर वीजा देंगे शेंगेन राज्य

बिजनेस डेस्कः शेंगेन राज्य जल्द ही भारत में प्राथमिकता के आधार पर वीजा की पेशकश कर सकते हैं। मौजूदा समय में ब्रिटेन इस सेवा का पेशकश कर रहा है। ब्रिटेन वीजा फीस के अतिरिक्त एक दिन में वीजा देने के लिए सुपर प्राथमिकता श्रेणी के तहत 90 हजार रुपए और सप्ताह में एेसा वीजा देने के लिए 20 हजार रुपए वसूल करता है।

सभी देशों में ब्रिटेन की वीजा फीस सबसे अधिक है लेकिन अब शेंगेन प्राथमिक सेवा के चार्ज बहुत कम हो सकते हैं। वीएफएस ग्लोबल ग्रुप के यूबिन करकारिया का कहना है कि बिजनेसमैन, निवेशकों जैसे लोग काफी कम समय में यात्रा का प्रोग्राम बना लेते हैं। ब्रिटेन ने 1 वर्ष पहले सुपर प्राथमिक सेवा शुरु की थी। अब शेंगेन राज्यों ने भी एेसी सेवा शुरु करने का फैसला किया है। ये राज्य 139 देशों में 60 संबंधित सरकारों से वीजा दस्तावेज एकत्रित करेंगे।

PunjabKesari

करकारिया ने कहा विदेशी सलाहकार अधिक से अधिक भारतीयों  तक पहुंच बनाना चाहते हैं। वह न केवल पर्यटकों को ही बल्कि अन्य श्रेणी के लोगों को भी साथ जोड़ना चाहते हैं। यूके और ऑस्ट्रेलिया जैसे स्थानों के लिए चीन के बाद भारत में छात्रों की एक बहुत बड़ी श्रेणी है।

उन्होंने कहा कि भारत में वीजा आवेदकों की हमारी कुल वृद्धि 10 से 15 फीसदी बढ़ी है लेकिन टायर 2-3 शहरों में यह वृद्धि 20 से 30 फीसदी के बीच है। दिल्ली और मुंबई में हमारे आवेदन केंद्र सप्ताहांत 24 घंटे खुले रहते हैं। उन्होंने कहा भारत में छुट्टियों का मतलब बदल गया है। पहले छुट्टियों में एशो-आराम  किया जाता था लेकिन आज ये हर किसी की जरुरत बन गई हैं। काम के दबाव में लोग अब परिवार के साथ समय बिताना चाहते हैं। भारतीय अब छुट्टियां मनाने के लिए चेक रिपब्लिक, सायप्रस और क्रोएशिया जैसे देशों में नहीं जाना चाहते।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED 10 दिसंबर को आएगा माल्या के प्रत्यर्पण पर फैसला