रुपया अभी भी कुछ अधिक मजबूत है, चिंता की कोई बात नहींः SBI

नई दिल्लीः डॉलर के मुकाबले रुपया भले ही 71 के ऐतिहासिक सर्वकालिक निचले स्तर पर पहुंच गया हो, लेकिन भारतीय स्टेट बैंक का आकलन है कि इसे लेकर ‘चिंता की कोई बात नहीं’, क्योंकि घरेलू मुद्रा की विनिमय दर अभी भी ‘कुछ अधिक मजबूत’ है।

उभरती अर्थव्यवस्थाओं वाले देशों की मुद्राओं के बीच हाल के महीनों में रुपए का प्रदर्शन सबसे खराब रहा है। साल की शुरुआत से डालर के मुकाबले रुपया अब तक 10 फीसदी से अधिक कमजोरी हुआ है। लेकिन भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के प्रबंध निदेशक पी. के. गुप्ता ने कहा कि भारतीय रुपया अभी भी अपनी समकक्ष मुद्राओं से बेहतर स्थिति में है। इसमें तुर्की, अर्जेंटीना और इंडोनेशिया की मुद्राएं शामिल है। गुप्ता ने कहा, ‘‘आपको यह देखने की जरूरत है कि दुनिया में क्या घट रहा है। अर्जेंटीना, इंडोनेशिया अधिकतर देशों की मुद्राएं डॉलर के आगे कमजोर पड़ रही हैं। अगर तुलना की जाए तो डॉलर के मुकाबले रुपए में बहुत कम गिरावट हुई है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि रुपये की स्थिति अभी चिंताजनक है। यह अपनी वास्तविक विनिमय दर से कहीं ऊपर है। इसमें थोड़ी-बहुत और गिरावट होने से कोई असर नहीं पड़ना चाहिए।’’ डॉलर के मुकाबले रुपया कल 26 पैसे गिरकर 71 के स्तर पर पहुंच गया। यह इसका सर्वकालिक रिकॉर्ड निचला स्तर है।     

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED रुपए की गिरावट रोकने के लिए ब्याज दर बढ़ाने की जरूरत नहीं: वित्त मंत्रालय