जेल के दिनों को याद कर भावुक हुईं साध्वी प्रज्ञा- कहा, पीटते-पीटते सुबह हो जाती थी

भोपाल:भोपाल लोकसभा सीट के कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह को टक्कर देने के लिए बीजेपी ने साध्वी प्रज्ञा को चुनावी मैदान में उतारा है। लेकिन राजनीति से जुड़ी हस्तियों, फिल्मी दुनिया और साहित्य से जुड़े लोगों को बीजेपी का यह फैसला रास नहीं आ रहा है। वहीं टिकट मिलने के बाद साध्वी प्रज्ञा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। जिसमें उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों पर सफाई पेश की। इस दौरान जेल के दिनों को याद कर साध्वी प्रज्ञा मीडिया के सामने रो पड़ीं। उन्होंने पुलिस हिरासत में रहने के दौरान टॉर्चर की बात कही। 



 

साध्वी प्रज्ञा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस ये कहा-
प्रेस कॉन्फ्रेंस में साध्वी प्रज्ञा ने अपने ऊपर हुए कथित अत्याचार को मुद्दा बनाने की बात कही है। उन्होंने कहा है कि 'हम धर्म युद्ध के लिए निकले हैं। कांग्रेस द्वारा मुझे 'भगवा आतंकी' की संज्ञा देना मेरा मुख्य चुनावी मुद्दा होगा। मुझ पर आतंकी होने का आरोप लगाकर बहुत प्रताड़ित किया गया है। जो मेरे साथ हुआ, क्या गारंटी है कि वे आगे किसी और के साथ नहीं करेंगे'। 

'दिन रात मुझे पीटते रहते थे'
साध्वी प्रज्ञा ने जेल में उनके साथ हुए व्यवहार की बात करते हुए कहा कि पुलिस मुझे दिन रात पीटती थी और गंदी गालियां देती थी । उन्होंने कहा कि, 'मैं आपको अपनी पीड़ा नहीं बता रही हूं। लेकिन इतना कह रही हूं कि कोई महिला कभी इस पीड़ा का सामना न करे।



कांग्रेस पर साधा निशाना
साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने आगे कहा कि 'प्रदेश में पूर्व सीएम शिवराज सिंह का काम सबको दिखता है। साथ ही कांग्रेस के 10 साल भी जनता को याद हैं। कांग्रेस की सरकार आते ही प्रदेश में चल रही जन-कल्याणकारी योजनाओं को बंद कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि प्रचार-प्रसार की हमारी तैयारी पूरी हो गई हैं। नेतृत्व ऐसा होना चाहिए जो कि जनता से सम्पर्क में रहे। हम जल्द ही अपना एजेंडा जनता के सामने रखेंगे।'
 

Related Stories:

RELATED भगौड़ा अभियुक्त गिरफ्तार