विज्ञान को लोकप्रिय बनाने के स्कूलों में होगी प्रतियोगिता, मिलेगा 5000 रूपये इनाम

नई दिल्ली : छात्रों में विज्ञान को लोकप्रिय बनाने के मकसद से एनसीईआरटी, विज्ञान प्रसार एवं विज्ञान भारती स्कूल स्तर पर छठी से 11वीं कक्षा के छात्रों के लिये ‘‘ विद्यार्थी विज्ञान मंथन ’’ का आयोजन कर रहा है ।राष्ट्रीय शैक्षणिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद के एक अधिकारी ने बताया कि विद्यार्थी विज्ञान मंथन छठी से 11वीं कक्षा के छात्रों के लिये एक राष्ट्रीय कार्यक्रम है जिसका मकसद विज्ञान से जुड़े मेधावी छात्रों की पहचान करना है। इसके लिये 30 सितंबर तक बिना विलंब शुल्क और 15 अक्तूबर तक विलंब शुल्क के साथ पंजीकरण कराया जा सकेगा । परीक्षा 25 नवंबर या 28 नवंबर 2018 को आयोजित की जायेगी ।  

विद्यार्थी विज्ञान मंथन परीक्षा दो घंटे की अवधि की होगी जिसमें 100 बहु विकल्प प्रश्न पूछे जायेंगे और प्रत्येक प्रश्न के लिये एक अंक निर्धारित होगा । यह परीक्षा दो श्रेणियों में होगी । छठी से आठवीं कक्षा के लिये एक श्रेणी और नौवीं से 11वीं कक्षा तक दूसरी श्रेणी होगी । परीक्षा अंग्रेजी, हिन्दी, मराठी, तमिल और तेलुगु में आयोजित की जायेगी । इसमें 50 प्रतिशत प्रश्न विज्ञान एवं गणित से होंगे । इसके अलावा विज्ञान में भारत का योगदान, डा. मेघनाद साहा और श्रीनिवास रामानुजम के जीवन से जुड़ी कहानियों से संबंधित प्रश्न और ताॢकक अभिरूचि से जुड़े प्रश्न भी पूछे जायेंगे ।

राज्यस्तर पर प्रत्येक कक्षा से शीर्ष स्थान प्राप्त करने वाले 20 छात्रों को राज्य स्तर के कैम्प में हिस्सा लेने का मौका मिलेगा । प्रत्येक राज्य से 18 छात्रों का चयन किया जायेगा । राज्य स्तर पर प्रति कक्षा प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले इन छात्रों को क्रमश: 5000 रूपये, 3000 रूपये और 2000 रूपये तथा प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाएगा । इसके बाद राष्ट्रीय स्तर पर 18 छात्रों का चयन किया जायेगा । राष्ट्रीय स्तर पर प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले इन छात्रों को क्रमश: 25000 रूपये, 15,000 रूपये और 10,000 रूपये तथा प्रमाणपत्र दिए जाएंगे । विद्यार्थी विज्ञान मंथन का आयोजन एनसीईआरटी, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के तहत विज्ञान प्रसार एवं विज्ञान भारती कर रहा है। 

Related Stories:

RELATED जेट एयरवेज को 1,261 करोड़ रुपए का घाटा