रोडवेजकर्मियों ने किया प्रदर्शन, मांगे पूरी न होने पर दी आंदोलन करने की चेतावनी

गोहाना (सुनील जिंदल)-गोहाना बस अड्डा परिसर पर रोडवेजकर्मियों ने मुख्यालय द्वारा छह चालकों को हटाने के विरोध में प्रदर्शन किया। उन्होंने सरकार से हटाए गए कर्मचारियों को काम पर वापिस रखने की मांग की। मांगे पूरी नहीं होने पर कर्मचारियों ने आंदोलन करने की चेतावनी दी। कर्मचारियों का नेतृत्व हरियाणा परिवहन कर्मचारी बीएमएस के प्रधान अशोक खोखर ने किया। इस दौरान सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। 

प्रधान अशोक खोखर का कहना है कि मुख्यालय ने वर्ष 2016 में अनुबंध आधार पर 450 परिचालकों को भर्ती किया था। अनुबंधित परिचालक नियमित रूप से विभाग में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। सरकार ने 24 मई को अनुबंधित परिचालकों की सेवाएं समाप्त कर दी। इस संबंध में सभी डिपो एवं सब-डिपो पर पत्र भी भेज दिया है।

गोहाना सब-डिपो में अनुबंध आधार पर छह चालक नरेश, प्रवीन कुमार, बिशन सिंह, जसवंत सिंह, सुनील कुमार, अनिल कार्यरत्त थे। शनिवार को अधिकारियों ने हटाए गए चालकों को ड्यूटी पर नहीं रखा। इससे कर्मचारियों में रोष है। उन्होंने कहा कि लोगों ने लोकसभा के चुनावों में बीजेपी को जनादेश दिया है। सरकार का काम लोगों को रोजगार देना होता है। इसके विपरित सरकार ने रोडवेज के कर्मचारियों का रोजगार छीनने का कार्य किया है। कर्मचारियों के प्रति सरकार तानाशाह पूर्ण रवैया अपना रही है। सरकार की तानाशाही को बर्दाशत नहीं किया जाएगा। 

Related Stories:

RELATED मांगे ना पूरी होने पर हरियाणा रोडवेज कर्मचारियों ने दी सरकार को आंदोलन की चेतावनी