मोदी-नीतीश के तालमेल से गड़बड़ाया राजद का गणित

नेशनल डेस्क: मोदी तथा नीतीश कुमार ने मिलकर इस चुनाव में बिहार के सामाजिक व्यूह रचना को ध्वस्त कर दिया। वीरवार को आये लोकसभा नतीजों में विपक्षी महागठबंधन का प्रदेश में लगभग सफाया हो गया। यहां की कुल 40 सीटों में से 39 सीट पर भाजपा, जदयू व एनडीए के सदस्य लोजपा ने जीत दर्ज की है। मोदी ने बिहार से विपक्ष को लगभग खत्म कर दिया। लालू प्रसाद की पार्टी राजद, आरएलएसपी, हैम तथा वीआईपी जैसे दल तो इस बार खाता भी नहीं खोल पाये। कांग्रेस को सिर्फ एक सीट मुस्लिम बहुल किशनगंज पर जीत मिली है।
 



बिहार में राजद 19, कांग्रेस नौ, उपेन्द्र कुशवाहा की पार्टी आरएलएसपी पांच, जीतनराम मांझी की पार्टी हैम तथा साहनी की पार्टी वीआईपी ने तीन तीन सीटों पर प्रत्याशी खड़े किये थे। महागठबंधन की ओर से आरा लोकसभा सीट सीपीआई (माले) के लिए छोड़ दी थी। वहीं एनडीए की ओर से भाजपा व जदयू 17-17 सीटों पर तथा रामविलास पासवान की पार्टी लोजपा को छह सीटों पर चुनाव लड़ी थी। जदयू की एक सीट छोड़ सभी सीटों पर एनडीए को जीत हासिल हुई। चुनाव बाद प्रदेश की जनता को धन्यवाद देते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि हमने लोगों से केंद्र में मोदी सरकार तथा प्रदेश में हमारे कामकाज के आधार पर वोट मांगा था। इस जीत से हमारा लोगों के प्रति दायित्व और बढ़ गया है। बम बिहार के विकास के लिए अपने काम को अबाध ढंग से जारी रखेंगे। 


क्या राजद केंद्र की सरकार में शामिल होगी, इस सवाल पर नीतीश कुमार ने कहा कि यह उन्हें(मोदी) तय करना है जो सरकार में नेतृत्व करेंगे कि वे राजद को कैबिनेट में लेंगे अथवा नहीं। यदि वह सहयोगियों को सरकार में शामिल करना चाहते हैं तो इसमें कुछ भी गलत नहीं होगा। बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिये जाने के बारे में नीतीश कुमार ने कहा कि दो दिन पहले एनडीए की एक बैठक में उन्होंने राज्य के विकास के लिए जरुरी कदम उठाये जाने पर जोर दिया था। मेरा मुद्दों पर जोर था पहला कि बिहार जैसे राज्य को अंडर डेवलपमेंट राज्य के तहत विशेष छूट मिले तथा दूसरा महिलाओं का सशक्तिकरण किया जाए। उन्होंने कहा कि खुद प्रधानमंत्री ने भी उनकी मांग के प्रति सहमति जताई थी। नीतीश के अनुसार एनडीए तथा गठबंधन दलों की ओर से विकास तथा राष्ट्रवाद केवल दो ही मुद्दे उठाये जाने से मतदाता उनके साथ मजबूती से जुड़े। बिहार के लोगों ने एक मजबूत सरकार के पक्ष में अपना मत दिया। 

Related Stories:

RELATED भारत-अफगानिस्तान के बीच महामुकाबला आज, जानिए कैसा रहेगा मौसम का मिजाज