सोशल मीडिया एप्प पर मनमाने प्रतिबंध से एफडीआई का राह होगा प्रभावित: आईएएमएआई

नई दिल्ली:शनिवार को इंटरनेट और मोबाइल उद्योग से जुड़े संगठन ने चीनी एप्प टिकटॉक की वकालत की है। उन्होंने कहा है कि सोशल मीडिया एवं अन्य मंचों पर मनमाने तरीके से रोक लगाये जाने से प्रत्यक्ष विदेशी निवेश में बाधा आ सकती है। उनका कहना है कि इससे डिजिटल इंडिया का विस्तार भी प्रभावित होगा। 

वीडियो साझा करने वाले चीनी एप्प टिकटॉक का नाम लिए बगैर इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (आईएएमएआई) ने कहा है कि उनका ब्यान एक सोशल मीडिया मंच पर उच्च न्यायालय के आदेश पर इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा लगाये गए हालिया प्रतिबंध के संदर्भ में है।क्योंकि पिछले कुछ दिनों में मद्रास उच्च न्यायालय ने तीन अप्रैल 2019 को केंद्र सरकार को टिकटॉक एप्प को प्रतिबंधित करने का निर्देश दिया था। 

इसके बाद अदालत ने मीडिया में चलने वाली खबरों को उद्धत करते हुए कहा कि ऐसी सूचनाएं मिल रही हैं कि मोबाइल एप्प के जरिए प्रॉनोग्राफी और आपत्तिजनक सामग्री उपलब्ध कराई जा रही है। इसके बाद  दिग्गज प्रौद्योगिकी कंपनियों गूगल और एप्पल ने अपने एप स्टोर से टिकटॉक एप्प को हटा दिया था। आईएएमएआई ने कहा कि अगर देश में अदालतें यदि इस तरह से इकतरफा रोक लगाती रहेंगी तो डिजिटल भारत की प्रगति की राह में बाधाएं उत्पन्न होंगी और एफडीआई भी प्रभावित होगा।


 

Related Stories:

RELATED चम्बा में प्रतिबंध के बावजूद भी नहीं रुक रहा पॉलीथीन का प्रयोग