Kundli Tv- क्या आप भी एेसे खाते हैं खाना तो आपके ग्रह भी हैं Strong!

ये नहीं देखा तो क्या देखा (देखें VIDEO)
ज्योतिष शास्त्र में ग्रहों का अपना एक खास महत्व है। इसमें व्यक्ति की कुंडली में चल रहे ग्रहों की चाल के आधार पर बहुत सी बातों के बारे में जाना जा सकता है। कहा जाता है कि अगर किसी की कुंडली में ग्रहों की चाल खराब हो तो उसको कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इतना ही नहीं ग्रहों की दशा खराब होने पर इंसान की सेहत पर भी बुरा प्रभाव पड़ने की मान्यता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आपके भोजन करने के तरीके से जाना जा सकता है कि आपकी कुंडली में ग्रहों की दशा मज़बूत है कमज़ोर। तो आईए जानते हैं इससे संबंधित कुछ दिलचस्प बातें- 

PunjabKesari
ज्योतिष शास्त्र में जलेबी का संबंध शुक्र ग्रह से बताया गया है। माना जाता है कि शुक्र के खराब होने से व्यक्ति की पौरुष शक्ति काफी कमज़ोर हो जाती है। ऐसी ही समस्याएं महिलाओं में भी खड़ी होने की मान्यता है। कहा जाता है कि शुक्र के कमज़ोर होने से शरीर का कफ तत्व बिगड़ जाता है जिससे रुखेपन की समस्या हो जाती है। इसके साथ ही माना जाता है कि जलेबी खाने से शुक्र की दशा मजबूत होती है। इसके लिए दूध में डालकर जलेबी को खाने के लिए कहा गया है।

PunjabKesari
गेहूं का सूर्य से गहरा संबंध बताया गया है। कहते हैं कि कुंडली में सूर्य की दशा मजबूत करने के लिए गेंहू का दान करना चाहिए। मान्यता है कि गेहूं की रोटियां खाने से भी सूर्य ग्रह की दशा मजबूत होती है। कहा जाता है कि 250 ग्राम गेहूं और 250 ग्राम चना पांच गिलास पानी में उबालें। इसके बाद इसे छानकर दिन में तीन बार पीने से शरीर की हड्ढियां मज़बूत होती हैं। इसके साथ ही कुंडली में सूर्य की दशा भी सही रहती है।
ये है वो जगह जहां कौओं की एंट्री है बैन (देखें Video)

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!