Kundli Tv- कुंडली से आपके शारीरिक दर्द का क्या है CONNECTION

ये नहीं देखा तो क्या देखा (VIDEO)
ज्योतिष शास्त्र की मानें तो व्यक्ति की कुंडली उसकी लाइफ पर बहुत असर डालती है। कहते हैं इंसान के जीवन में होने वाली हर घटना का कुंडली से बहुत स्ट्रांग कनेक्शन होता है। तो आइए आज हम जानते हैं आपको होने वाले कि शारीरिक दर्द का कुंडली की ग्रहों से क्या संबंध है। 


ज्योतिष का मानना है अगर कुंडली में राहु की दशा कमज़ोर हो तो व्यक्ति को कई तरह के शारीरिक दर्द का सामना करना पड़ता है। इसके लिए ये भी कहा जाता है कि राहु की प्राधान्य होने पर इंसान तनाव और गुस्से का शिकार हो जाता है। एेसी स्थिति में व्यक्ति को दूसरों से झगड़े की आदत लग जाती है। इसके अलावा ये भी कहा जाता है कि राहु की वजह से व्यक्ति हद से ज्यादा आलसी हो जाता है और छोटे-छोटे कार्यों को भी पूरा नहीं कर पाता। इसके साथ ही ये भी कहा जाता है कि अगर कुंडली में राहु खराब हो तो जीवन में बहुत सी दुर्घटनाएं होने लगती हैं।

बता दें कि अगर किसी की कुंडली में राहु का लग्न के साथ संबंध हो तो ये भी काफी बुरा माना जाता है। माना जाता है कि ऐसी दशा में व्यक्ति बहुत ही तेज बुखार की चपेट में आ जाता है। इसमें व्यक्ति के शरीर में काफ़ी तेज दर्द होता है। इसके अलावा अगर कुंडली में राहु का अन्य ग्रहों से संबंध हो तो ये भी अच्छा नहीं माना जाता। एेसा कहा जाता है कि इन हालातों में व्यक्ति को आंखों से जुड़ी समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

ज्योतिष के अनुसार शरीर का टूटना यानि शरीर के विभिन्न हिस्सों में दर्द के पीछे का कुंडली में राहु और शनि का आपसी मेल माना गया है। कहते हैं कि ऐसी स्थिति में व्यक्ति को कई तरह की चोटें लगती रहती हैं और कोई बड़ी दुर्घटना के होने की संभावना भी रहती है।

ज्योतिष की जानकारी के मुताबिक शरीर में पेट का स्थान मंगल ग्रह का माना गया है। जिस किसी की कुंडली में भी मंगल की दशा खराब होती है उस व्यक्ति को पेट से जुड़ी बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है।  
गोवर्धन पूजा का जुआ खेलने से क्या है संबंध ? (VIDEO)

Related Stories:

RELATED खुद तकलीफ का स्वाद चखे बिना नहीं होता किसी के दुख का अहसास