राफेल सौदा: SC के फैसले से दसॉल्ट खुश, कहा- मेक इन इंडिया के लिए समर्पित

नई दिल्लीः दसाल्ट एविएशन ने राफेल लड़ाकू जेट सौदे पर उच्चतम न्यायालय के फैसले का स्वागत किया। उच्चतम न्यायालय ने अरबों डॉलर के इस सौदे की जांच की मांग खारिज कर दी। कंपनी ने कहा, ‘‘दसाल्ट एविएशन उच्चतम न्यायालय द्वारा आज दिये गये फैसले का स्वागत करती है।



23 सितंबर, 2016 को हुए राफेल अनुबंध पर दायर सभी याचिकाएं उच्चतम न्यायलय ने खारिज कर दीं।’’ दसाल्ट एविएशन ने भारत को 36 राफेल जेट विमानों की आपूर्ति के लिए 58,000 करोड़ रुपये का यह सौदा हासिल किया था। कांग्रेस इस सौदे में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार होने का आरोप लगा रही है जबकि सत्तारूढ़ भाजपा ने इस दावे का जोरदार खंडन किया है।

कंपनी ने एक बयान में कहा, ‘‘दसाल्ट एविएशन उच्चतम न्यायालय के इन निष्कर्षों का संज्ञान लेती है कि 36 राफेल विमानों की खरीद से जुड़ी प्रक्रिया, मूल्य निर्धारण, भारतीय ऑफसेट साझेदार के चयन में अनियमितताएं नहीं हुईं।’’



चीफ जस्टिस ने कहा कि राफेल विमान हमारे देश की जरूरत है। चीफ जस्टिस ने कहा कि ऑफसेट पार्टनर की प्रक्रिया में हस्तक्षेप करने का कोई कारण नहीं है। किसी व्यक्ति के लिए निजी धारणा के आधार पर डिफेंस डील को निशाने पर नहीं लिया जा सकता है।

Related Stories:

RELATED राफेल सौदे पर सरकार की सफाई, पहले से सस्ता और बेहतर शर्तों पर