मंत्री नंदी पर RDX से हमला करने वाले आरोपी राजेश पायलेट की मौत

बुलन्दशहरःयूपी सरकार में राज्यमंत्री नंद गोपाल गुप्ता उर्फ नंदी पर जानलेवा हमला करने वाले राजेश पायलट की मौत हो गई है। राजेश बुलंदशहर जिला जेल में बंद था। पिछले 2 सितंबर को राजेश को ब्रेन हैमरेज हुआ था। जिसके चलते उसे दिल्ली सफदरगंज अस्पताल में भर्ती कराया गया। बताया जा रहा है कि ब्रेन हैमरेज की वजह से राजेश पायलट की मौत हो गई। राजेश मध्य प्रदेश का रहने वाला है।

2 सितंबर को हुआ ब्रेन हेमरेज 
बता दें कि 17 फरवरी 2018 से बुलन्दशहर जिला जेल में राजेश पायलट बंद था। इलाहाबाद नैनी जेल से फरवरी महीने में बुलन्दशहर जिला जेल लाया गया था।बुलंदशहर जिला कारागार के जेल अधीक्षक ओपी कटियार ने राजेश की मौत की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि 2 सितंबर को ब्रेन हेमरेज होने पर राजेश को दिल्ली के सफदरजंग हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था, जहां उसका उपचार चल रहा था।

राजेश पर 6 और मामले थे दर्ज 
उन्होंने बताया कि 47 वर्षीय राजेश पर कुल 6 मामले बताए जा रहे हैं, जिनमें इलाहाबाद में 2 मामले धारा 307 के जबकि एक मामला धारा 302 के तहत और एक मुकदमा गैंगस्टर की धारा में दर्ज था। 307 का एक और मामला सोनभद्र जिले का भी आरोपी पर चल रहा था।

मंत्री नंदी पर किया था जानलेवा हमला 
बता दें 12 जुलाई 2010 को मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता उर्फ नंदी के ऊपर जानलेवा हमला आरडीएक्स से किया गया था। इसकी चपेट में आने से अन्य लोगों की मौत भी हुई थी। इस मामले में कुल 18 आरोपित हैं। 

Related Stories:

RELATED जर्मनी में 2 छोटे विमानों की टक्कर, पायलट की मौत