रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम नहीं तो स्कूल पर होगी कार्रवाई

नई दिल्ली: बारिश का मौसम आने में अभी काफी वक्त है, लेकिन एनजीटी अभी से रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम को लेकर सख्त हो गया है। एनजीटी ने एक बार फिर राजधानी की तीनों नगर निगमों को नोटिस भेजकर स्कूलों में रैन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम स्थापित करने का आदेश दिया है। यही नहीं एनजीटी ने सख्त रुख अख्तियार करते हुए कहा कि अगर किसी भी निगम स्कूल में वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम नहीं मिला तो उस पर कम से कम 5 लाख रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा। 
बता दें कि, उत्तरी नगर निगम में कुल 568 स्थानों पर शिक्षण संस्थान चल रहे हैं और इनमें से 382 स्थानों पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम स्थापित किए जा चुके हैं। जबकि दक्षिणी नगर निगम के 106 स्थानों पर चल रहे स्कूल में वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम नहीं है। ऐसे में अगर समय रहते ही इन स्कूलों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम का इंतजाम नहीं किया गया तो आर्थिक तंगी से जूझ रहे निगम जुर्माना राशि भरने से और तंगी में आ जाएंगे। 

निगम ने टीसी देने पर लगा दी थी रोक
एनजीटी द्वारा जुर्माना लगाए जाने के बाद दक्षिणी नगर निगम ने मान्यता प्राप्त स्कूलों पर कार्रवाई करना शुरू कर दिया था। शिक्षा विभाग ने मान्यता प्राप्त स्कूल में पढऩे वाले बच्चों को टीसी देने से भी इंकार कर दिया था। हालांकि राजनीतिक दबाव पडऩे के बाद बच्चों को टीसी जारी कर दी गई थी। 

पिछले वर्ष भी कटा था चालान
विगत वर्ष भी निगम स्कूल में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम नहीं होने से दक्षिणी नगर निगम पर 5 लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया था। इसको लेकर निगम कोर्ट भी गया था, लेकिन उसकी याचिका पर सुनवाई नहीं हुई थी। 

Related Stories:

RELATED RRB NTPC 2019 ने भर्ती में किए ये नए बदलाव, ऐसे करें चेक