दुश्मनों से निपटने के लिए वायु सेना की क्षमता बढ़ाने की जरूरत है: वायुसेना प्रमुख

नई दिल्ली: वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ ने बुधवार को कहा कि दुनिया में कोई भी देश उस तरह के गंभीर खतरे का सामना नहीं कर रहा है, जैसा भारत कर रहा है। उन्होंने कहा कि दुश्मनों के इरादे रातोंरात बदल सकते हैं और वायु सेना को उनके स्तर के बल की जरूरत है।


वायु सेना प्रमुख ने कहा कि भारत के पड़ोसी निष्क्रिय नहीं बैठे हैं और चीन जैसे देश अपनी वायु सेना का आधुनिकीकरण कर रहे हैं। ‘भारतीय वायु सेना के बल की संरचना, 2035’ पर एक संगोष्ठी में धनोआ ने कहा कि सरकार भारतीय वायु सेना की क्षमताएं बढ़ाने के लिए राफेल लड़ाकू विमान और एस-400 मिसाइल खरीद रही है। उन्होंने राफेल विमान के केवल दो बेड़ों की खरीद को उचित बताते हुए कहा कि इस तरह की खरीद के उदाहरण पहले भी रहे हैं।     


राफेल डील विवाद में बीएस धनोआ ने मोदी सरकार का समर्थन किया है। केंद्र सरकार आज हमें राफेल लड़ाकू विमान मुहैया करवा रही है। इन विमानों के जरिए हम आज की मुश्किलों का सामना कर पाएंगे।

Related Stories:

RELATED दुश्मनों से निपटने के लिए वायु सेना की क्षमता बढ़ाने की जरुरत है: वायुसेना प्रमुख