पुलवामा हमले को लेकर पाक का भंडाफोड़- ISI कर्नल ने दी आत्मघाती आतंकियों को ट्रेनिंग

इंटरनेशनल डैस्कः पुलवामा हमले को लेकर खुफिया एजेंसियों की जांच में बड़ा खुलासा हुआ है । जांच में पाक का भंडाफोड़ करते बताया गया कि आत्मघाती आतंकियों को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI के कोड नेम कर्नल तारिक ने ट्रेनिंग दी है। आतंकी मसूद अजहर ने ISI के साथ मिलकर जैश के इस टुकड़ी को 'घातक पलटन' का नाम दिया है। पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद सेना ने दावा किया है कि कश्मीर में जैश ए मोहम्मद के टॉप कमांडर्स को मार गिराया गया है।


सेना ने ये भी खुलासा किया कि पुलवामा हमले के पीछे पाकिस्तान आर्मी का हाथ है और घाटी मे फिलहाल जैश ए मोहम्मद के सात आत्मघाती आतंकी मौजूद हैं । भारत ने पाक के प्रधानमंत्री इमरान के दोगले चेहरे को फिर बेनकाब किया है। इमरान ने पाकिस्तान के हाथ के सबूत मांगे तो विदेश मंत्रालय ने इमरान को आतंकी संगठन जैश का बयान याद दिलाया। कैबिनेट बैठक के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी इमरान को सख्त चेतावनी दी। जेटली ने कहा कि पाकिस्तान ने तो अब तक पुलवामा अटैक की निंदा तक नहीं की। जैश के सरगना मसूद अजहर पर शिकंजा फिर कस गया है।

भारत को फ्रांस का बड़ा समर्थन मिला है, फ्रांस संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में मसूद को ग्लोबल आतंकी घोषित करने का प्रस्ताव रखेगा। पिछले 10 सालों में ये चौथा मौका होगा जब यूएन में मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने का प्रस्ताव आएगा। फ्रांस सरकार पेरिस में चल रही फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स की बैठक में पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में बनाए रखने पर जोर देगी।

पाकिस्तान को जून 2018 में FATF की ग्रे लिस्ट में डाला गया था। पाकिस्तान को कहा गया था कि अक्टूबर 2019 तक अगर उसने आतंकी फंडिंग पर लगाम नहीं लगाई तो उसे ब्लैक लिस्ट कर दिया जाएगा।

Related Stories:

RELATED पाकिस्तान ने रीएक्सपोर्ट में डाला अड़ंगा