पुलवामा अटैक के बाद करतारपुर गलियारे को लेकर कैप्टन ने कही ये बड़ी बात

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने करतारपुर गलियारे को लेकर बड़ी बात कही है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र ने कहा कि पुलवामा आतंकी हमले का करतारपुर गलियारे पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। उन्होंने वीजा मुक्त खुले दर्शन दीदार संबंधी अपनी मांग को फिर दोहराया। 

पाकिस्तान को अपने रवैये में तबदीली लाने की जरूरत
सदन स्थगित होने के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने कहा कि उनका विश्वास है कि गलियारा पूरी तरह महफूज होगा, परन्तु इसके साथ ही उन्होंने कहा कि यदि दोनों देशों के बीच अमन-शान्ति की कोशिशों को आगे बढ़ाना है तो इसके लिए पाकिस्तान को अपने रवैये में तबदीली लाने की जरूरत है। 

करतारपुर गलियारा सिखों की पुरानी मांग
एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि गलियारा पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था होगी। हमारे हिस्से में हमारे सुरक्षा बल जबकि उनके हिस्से की सुरक्षा उनके जिम्मे होगी। उन्होंने कहा कि गलियारा सिखों की पुरानी मांग है। पाकिस्तान की तरफ से पंजाब और जम्मू-कश्मीर के आतंकवादियों को जोडऩे की जा रही साजिशों का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह रिपोर्टें सामने आई हैं कि पड़ोसी देश पंजाब में गड़बड़ी पैदा करने की कोशिश में हैं, जहां हाल ही के महीनों में 28 आतंकवादी ग्रुपों के विरुद्ध कार्रवाई की गई है।

पलवामा हमले में 40 के करीब जवान हुए शहीद
गौरतलब है कि जैश-ए-मोहम्मद के एक आत्मघाती हमलावर ने 100 किलोग्राम विस्फोटक से लदे वाहन से पुलवामा जिले में सीआरपीएफ जवानों को लेकर जा रही एक बस में टक्कर मार दी। इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए व कई घायल हो गए। हमले के बाद सी.आर.पी.एफ. ने कश्मीर घाटी और राज्य में अन्य स्थानों पर अपने सभी प्रतिष्ठानों को ‘अति सतर्कता’ बरतने का अलर्ट जारी किया है। सी.आर.पी.एफ. के 2,500 से अधिक जवान 78 वाहनों के काफिले में यात्रा कर रहे थे तभी श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर दक्षिण कश्मीर के अवंतीपुरा के लातूमोड़ में घात लगाकर हमला किया गया।
 

Related Stories:

RELATED पुलवामा हमले के दुख में होली नहीं मनायेंगे राजनाथ