VIDEO: हजारों नम आंखों ने दी शहीद कुलविंद्र सिंह को अंतिम विदाई, नवंबर में थी शादी

नूरपुर बेदीः जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद हुए कुलविंद्र सिंह के पार्थिव शरीर को आज उनके पैंतृक गांव रौली में राजकीय सम्मान से अंतिम विदाई दी गई।तिरंगे में लिपटे  कुलविंद्र को देखकर हर कोई उनके शौर्य की गाथा गा रहा था। बताया जा रहा है कि उनकी शादी नवंबर 8-9 को होनी थी लेकिन शादी की शहनाईयों से पहले घर में मातम छा गया। शहीद के घर का माहौल इतना गमगीन था कि यह दुख किसी से भी देखा नहीं गया।


इकलौते बेटे के शहीद होने के समाचार ने पिता को झिंझोड़ा
शहीद कुलविंद्र सिंह के पिता दर्शन सिंह जिसका दुख देखा नहीं जा रहा, वह केवल यही कह रहे थे कि उनका पुत्र उन्हें अकेला छोड़ गया और अब उनका कौन सहारा बनेगा। इकलौते बेटे के शहीद होने के समाचार ने पिता को झिंझोड़ कर रख दिया। वहीं शहीद की माता का भी रो-रो कर बुरा हाल था, जिन्हें वहां मौजूद व्यक्ति बार-बार सांत्वना दे रहे थे।


क्रिकेट का बढिय़ा खिलाड़ी था शहीद कुलविंद्र सिंह
शहीद सैनिक कुलविंद्र सिंह 5 वर्ष पहले वर्ष 2014 में सी.आर.पी.एफ. में भर्ती हुआ था। करीब 6 फुट ऊंचा जवान कुलविंद्र सिंह क्रिकेट का बढिय़ा खिलाड़ी था। कुलविंद्र ने नूरपुर बेदी के सीनियर सैकेंडरी स्कूल से 12वीं उत्तीर्ण की और फिर नंगल से आई.टी.आई. करने के बाद सी.आर.पी.एफ. की 92वीं बटालियन में बतौर सिपाही भर्ती हुआ था। शहीद सैनिक के फूफा शिंगारा सिंह निवासी चैहड़ मजारा ने बताया कि शहीद कुलविंद्र सिंह उसके ही लड़के के विवाह के लिए कुछ दिन की छुट्टी पर आया था।

Related Stories:

RELATED लालच देकर महिलाओं से लाखों रुपए की ठगी