समय पूर्व चुनाव कराना घातक हो सकता है : नेतान्याहू

यरुशलम: इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्याहू ने रविवार को अपने गठबंधन सहयोगियों को चेतावनी दी कि जल्द चुनाव कराने के बहुत घातक परिणाम हो सकते हैं। नेतान्याहू ने यहां जल्द चुनाव कराने की संभावनाओं से साफ इंकार किया और गठबंधन के सहयोगियों को जल्द चुनाव कराने की दिशा में कदम उठाने से बचने के लिए आगाह भी किया। उन्होंने मंत्रिमंडल की बैठक की शुरुआत में इजरायल में समय पूर्व जल्द चुनाव कराने को‘अनावश्यक और गलत’करार दिया।

यरुशलम पोस्ट ने नेतान्याहू के हवाले से कहा,"हमारी सुरक्षा के इस संवेदनशील दौर में हमें इसकी (जल्द चुनाव कराने की) जरुरत नहीं है। हम जानते हैं कि जब कट्टर दक्षिणपंथी नीत सरकार के तत्वों ने 1992 और 1999 में सरकार को गिरा दिया था तब हमें ओस्लो और (द्वितीय) इंतिफाडा की आपदा का किस प्रकार सामना करना पड़ा था।"  

नेतान्याहू ने वित्त मंत्री मोशे कहलोन, जो कुलानु पार्टी के प्रमुख हैं, और गृह मंत्री आर्यह डेरी, जो शास पार्टी के प्रमुख हैं, से गुरुवार को मुलाकात की। दरअसल इन दोनों नेताओं ने उनसे जल्द चुनाव कराने का आग्रह किया है। नेतान्याहू ने शुक्रवार को मंत्री और बाइत यहुदी पार्टी के अध्यक्ष बैनेट के साथ मुलाकात की। नेतान्याहू ने लिबरमैन के रक्षा मंत्री पद छोडऩे के बाद नया मंत्री नियुक्त करने की मांग पर चर्चा करने के लिए बैनेट से मुलाकात की थी। बैनेट ने अपनी मांग पूरी नहीं होने पर सरकार को गिरा देने की धमकी दी थी। 

Related Stories:

RELATED मिजोरम चुनाव: मोदी-नेतन्याहू की गहरी दोस्ती दिला सकती है BJP को जीत