पावर निगम ने 19.28 लाख का बिल भेजकर उपभोक्ता के होश उड़ाए

जालंधर(पुनीत): बिजली उपभोक्ता का बिल रूटीन में 10 हजार रुपए के करीब आता था लेकिन इस बार का बिजली बिल 19.28 लाख आ जाने से उपभोक्ता के होश उड़ गए। पावर निगम ईस्ट डिवीजन में पड़ते भगत सिंह चौक के पास एक फैक्टरी का बिजली बिल अकाऊंट 3002536801 है जोकि सिकंदर लाल के नाम से रजिस्टर्ड है। इस अकाऊंट नंबर में एक मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड होने के चलते बिल बनते ही मोबाइल पर मैसेज आ जाता है। बीत रोज आए इस मैसेज में उपभोक्ता का बिजली बिल 19,28,460 रुपए बताया गया जिसकी नियमित अदायगी की तिथि 1 अप्रैल है।

संबंधित उपभोक्ता मनू भांगड़ी ने बताया कि पिछली बार मई माह में भी 2.90 लाख के करीब बिजली बिल भेजा गया था। उन्होंने कहा कि एक बार गलती मानी जा सकती है लेकिन पहले भी गलत बिल भेजा जा चुका है और इस बार फिर से गलत बिल आने से साफ होता है कि पावर निगम से संबंधित बिल बनाने वाले व्यक्ति इस प्रति ध्यान नहीं देते। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ अधिकारियों को चाहिए कि लोगों को होने वाली परेशानी पर आवश्यक कदम उठाएं ताकि लोगों को परेशान होकर बिजली दफ्तरों के चक्कर न काटने पड़े। 

Related Stories:

RELATED बिजली निगम के खिलाफ ग्रामीणों ने की नारेबाजी, लगाया जाम