पुलवामा हमले की देर से जानकारी पर बेहद गुस्सा हुए थे पीएम, की थी रुद्रपुर रैली रद्द

नेशनल डेस्कःपुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के सात दिन बाद देश में जवानों की शहादत पर सियासत शुरू हो गई है। कांग्रेस ने प्रधानमंत्री के उत्तराखंड दौरे को लेकर सवाल खड़े कर दिए हैं। वहीं पीएम मोदी के दौरे को लेकर एक सरकारी अधिकारी ने खुलासा किया है कि पुलवामा हमले के बाद पीएम मोदी ने अपनी रुद्रपुर की रैली रद्द कर दी और साथ ही उन्होंने उत्तराखंड में ही हमले को लेकर कई समीक्षा बैठक की थी। वह देर से सूचना मिलने को लेकर बेहद गुस्से में थे।


सरकार के सीनियर अधिकारी ने बताया, "जिस समय पुलवामा हमले की पहली खबर आई, उस समय पीएम शाम को करीब चार बजे वह कार्बेट से रुद्रपुर के रास्ते पर थे। इस घटना की देर से सूचना दिए जाने पर पीएम बेहद नाराज हुए थे। इसके बाद शाम 4 बजे से 4:45 तक उन्होंने स्थिति की समीक्षा के लिए कई बैठक की।" अधिकारी ने बताया कि इसके बाद भी पीएम पूरी स्थिति पर कड़ी नजर बनाए हुए थे। इसी वजह से रुद्रपुर की रैली में देर हो रही थी। इसके बाद रैली में भारी भीड़ होने के बावजूद पीएम ने रैली में नहीं जाने का फैसला लिया। सरकारी अधिकारी ने बताया, 'इसके बाद उन्होंने 5:15 पर फोन के जरिए रैली को संबोधित किया और 5-7 मिनट में अपनी बात खत्म कर दी।'

इसके तुरंत बाद पीएम सड़क मार्ग से बरेली के लिए निकले, जहां से उन्होंने सीधे दिल्ली के लिए फ्लाइट ली। सरकार के सीनियर अधिकारी ने बताया, 'करीब 1 घंटे बाद स्थिति की एक बार फिर से समीक्षा करने का फैसला लिया गया। इसलिए पीएम ने रामनगर के गेस्ट हाउस में रुके और पुलवामा में स्थिति की जानकारी ली और जरूरी निर्देश दिए। दूसरी रिव्यू मीटिंग के बाद पीएम बरेली के लिए निकले और दिल्ली की फ्लाइट ली और रात को दिल्ली पहुंचे।'

अधिकारी ने बताया, "पीएम कई कार्यक्रमों के लिए 14 फरवरी को उत्तराखंड में थे। उन्हें जिम कॉर्बेट पार्क में कई विकास कार्यों की शुरूआत करनी थी और कई योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करना था, साथ ही रुद्रपुर में रैली का भी कार्यक्रम था। अधिकारी ने कहा, " उत्तराखंड सरकार की ओर से लंबे वक्त से निवेदन किया जा रहा था कि पीएम वहां जाकर टूरिज्म को प्रमोट करें। 14 फरवरी की दोपहर, पीएम ने जिम कार्बेट पार्क में 3 प्रोजेक्ट को लॉन्च करने का ऐलान किया। ये तीन प्रोजेक्ट, रेस्क्यू सेंटर, सफारी फैसिलिटी और सर्विलांस सिस्टम से जुड़े थे। इसके बाद उन्होंने टूरिज्म प्रमोशन के और क्लाइमेट चेंज अवेयरनेस के लिए छोटा सा शूट किया और रुद्रपुर में जनसभा के लिए निकले। 

Related Stories:

RELATED RRB की यह खबर पढ़ कर हो जाएंगे खुश, जल्द लें पूरी जानकारी