राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिले मोदी, प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा

नई दिल्लीः केंद्रीय मंत्रिमंडल ने शुक्रवार को 16वीं लोकसभा भंग करने की सिफारिश कर दी। इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय मंत्रिपरिषद ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को सामूहिक इस्तीफा सौंप दिया । राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री सहित मंत्रिपरिषद का इस्तीफा स्वीकार करते हुए प्रधानमंत्री से नयी सरकार बनने तक पद पर बने रहने का आग्रह किया है। राष्ट्रपति भवन ने यह जानकारी दी।


राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री एवं मंत्रिपरिषद से नयी सरकार बनने तक पद पर बने रहने का आग्रह किया है। इससे पहले केंद्रीय मंत्रिमंडल की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में बैठक हुई जिसमें 16वीं लोकसभा भंग करने की सिफारिश की गई। कैबिनेट की सिफारिश के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद वर्तमान लोकसभा भंग कर सकते हैं जिसका कार्यकाल 3 जून को समाप्त हो रहा है।

16वीं लोकसभा की पहली बैठक 4 जून 2014 को बुलाई गई थी तब सदस्यों ने पद एवं गोपनीयता की शपथ ली थी। केंद्रीय मंत्रिमंडल और मंत्रिपरिषद की यह बैठक लोकसभा चुनाव की मतगणना होने के एक दिन बाद हुई । इस चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ‘भाजपा’ नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन ‘राजग’ को जबर्दस्त जीत हासिल हुई है।

अकेले भाजपा को 302 सीटों पर जबकि राजग को 350 सीटें मिली हैं। सत्रहवीं लोकसभा का गठन 3 जून से पहले किया जाना है और नये सदन के गठन की प्रक्रिया अगले कुछ दिनों में तब शुरू होगी जब तीनों चुनाव आयुक्त राष्ट्रपति से मिलेंगे और नव निर्वाचित सदस्यों की सूची सौपेंगे।

 

Related Stories:

RELATED राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिले मोदी, प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा