वाइब्रेंट गुजरात समिट में बोले PM मोदी- हमारे पास दुनिया की सर्वश्रेष्ठ प्रतिभाएं

नेशनल डेस्क: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वैश्विक द्विवार्षिक निवेश सम्मेलन वाइब्रेंट गुजरात के नौंवे संस्करण का उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि हम सुधार और नियमों को सरल करने की गति जारी रखेंगे। अगले साल तक कारोबार सुगमता में शीर्ष 50 देशों में शामिल होने का भारत का लक्ष्य है। 

मोदी ने कहा कि भारत अभूतपूर्व कारोबार के लिए तैयार है,  हमने विश्व बैंक की कारोबार सुगमता सूचकांक में 75 पायदान की छलांग लगायी है। मेरी सरकार में जीडीपी वृद्धि की सालाना औसत दर 7.3 प्रतिशत रही है, जो 1991 के बाद से सर्वाधिक है। मोदी ने निवेशकों से कहा कि यह भारत में रहने के लिए सबसे अच्छा समय है।

वहीं इससे पहले पीएम ने उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपति से मुलाकात की। दोनों राष्ट्रों के बीच समझौता ज्ञापन पर भी हस्ताक्षर किए गए। वहीं मोदी ने माल्टा के प्रधानमंत्री जोसेफ मस्कट का भी गुजरात समिट में स्वागत किया। इस सम्मेलन में दो देशों के राष्ट्रपति चार प्रधानमंत्री और बड़ी संख्या में उद्योग क्षेत्र के नेता भाग ले रहे हैं। सरकार ने दावा किया कि 125 देशों के 36 हजार से अधिक प्रतिनिधि और 26 हजार से ज्यादा कंपनियां भाग लेंगी।

बता दें कि इस सम्मेलन की शुरुआत साल 2003 में बतौर राज्य का सीएम रहते मोदी ने की थी। तब से अब तक आठ समिट हो चुके हैं, जिसमें हज़ारों करोड़ों के एमओयू (मेमोरैंडम ऑफ अंडरस्टैंडिंग) और निवेश की घोषणा चर्चा का विषय बनते आ रहे हैं। ब्रिटेन के साथ किए गए समिट में गोबर गैस प्लांट और सोलर प्लांट जैसे प्रोजेक्ट पर एमओयू हुए थे। इसके बाद साल 2003 में समिट का स्वरूप बदल गया और इसे बड़े स्तर पर किए जाने की घोषणा हुई। 

Related Stories:

RELATED वाइब्रेंट गुजरात समिट: PM मोदी के साथ सेल्फी खिंचवाने की लगी होड़