पार्कलैंड स्कूल गोलीबारी में बची किशोरी ने पछतावे के चलते की आत्महत्या

लॉसएंजलिसःअमेरिका के फ्लॉरिडा में पार्कलैंड स्कूल गोलीबारी में बच गई एक किशोरी ने आत्महत्या कर ली। उसे इस बात का पछतावा था कि वह क्यों बच गई। सिडनी एलो (19) मार्जरी स्टोनमैन डगलस की छात्रा थी। कॉलेज में गत वर्ष 14 फरवरी को एक भूतपूर्व छात्र ने अर्द्धस्वचालित हथियार से गोलियां चला दीं जिसमें 14 छात्रों और तीन कर्मचारियों की मौत हो गई थी। मृतकों में एलो के दो करीबी मित्र भी थे।



उसके माता-पिता ने बताया कि एलो का किसी भयानक घटना से गुजरने के बाद उससे उबरने के लिए इलाज चल रहा था और उसे सर्वाइवर गिल्ट यानी इस बात का पछतावा था कि इस घटना में वह क्यों बच गई। सिडनी तनाव में थी और पिछले काफी समय से उसे अवसाद से निकालने की कोशिश हो रही है।



उसकी मां कारा ने बताया कि एलो कॉलेज में मुश्किल समय से गुजर रही थी क्योंकि कक्षाओं से उसे डर लगने लगा था। पार्कलैंड गोलीबारी में सिडनी के करीबी दोस्त मेडो पोलक की मौत हुई थी। मेडो के पिता ने इस घटना पर दुख जताते हुए कहा कि गोलीबारी की ही यह असर है कि आज इस शहर ने अपने एक और बच्चे को खो दिया। सिडनी की मौत हमारे लिए त्रासदी है।

Related Stories:

RELATED विवाहिता ने फंदा लगा की आत्महत्या