फेसबुक के बाद Whatsapp ग्रुपों में सेंध लगाकर घुसे पाकिस्तानी

जालंधर:पंजाब के गैंगस्टरों के फेसबुक पेजों में काबिज होकर हिंदुस्तानियों को गालियां देने वाले पाकिस्तानी अब इंडियन व्हाट्स एप ग्रुपों में सेंध लगा बैठ गए हैं।पाकिस्तानी सिर्फ उन्हीं ग्रुपों में घुस रहे हैं जिनके लिंक फेसबुक में दिए गए हैं। ऐसे ग्रुपों में एंट्री लेना काफी आसान होता है लेकिन यह खतरे से भी खाली नहीं। भारत में पुलवामा हमले को लेकर इन ग्रुपों में जो भी चर्चा हो रही है, वह पाकिस्तानियों तक पहुंच रही है। 

पाकिस्तानी नंबर में एक की डी.पी. पर दिखे पाक के फौजी
इस ग्रुप में एक ऐसा पाकिस्तानी नंबर मिला जिसकी डी.पी. पर पाकिस्तानी फौजी हैं। उनके हाथ में ए.के.-47 है। फौजियों की गिनती 4 थी। पाकिस्तानी फौजियों का इंडिया के व्हाट्स एप ग्रुपों में होना काफी गंभीरता वाली बात है। 

ज्यादातर गैंगस्टरों के ग्रुपों से लिंक्ड हैं पाकिस्तानी
‘पंजाब केसरी’ को इस बात का पता लगा तो तुरंत एफ.बी. पर जाकर व्हाट्स एप ग्रुपों के ङ्क्षलक ढूंढे गए। जितने भी लिंक मिले, वे ज्यादातर पंजाब व अन्य राज्यों के गैंगस्टरों के थे। एक गैंगस्टर की फेसबुक आई.डी. पर जाकर उनके बनाए गए लिंक पर क्लिक किया तो तुरंत उनके व्हाट्स एप ग्रुप में एंट्री मिल गई। इसके लिए किसी की अप्रूवल की भी जरूरत नहीं पड़ी। ग्रुप में जाकर देखा तो करीब 6 पाकिस्तान के नंबर थे जिनके आगे +92 था जबकि कुछ अन्य संदिग्ध नंबर भी मिले। करीब 4 दिन तक ग्रुप में रह कर देखा कि पाकिस्तान के लोग ग्रुप में कुछ पोस्ट तो नहीं डाल रहे लेकिन यहां के लोग जो भी पोस्ट डाल रहे हैं, उन पर नजर बनाए बैठे हुए हैं। 

कहीं कोई सोची-समझी साजिश तो नहीं
बार्डर पार बैठे आतंकियों और पंजाब के कुछ गैंगस्टरों का लिंक अक्सर चर्चा में रहा। नाभा जेल ब्रेक में के.एल.एफ. के आतंकी का गैंगस्टरों के साथ भागना भी इसी चर्चा का एक जवाब था लेकिन अब सवाल उठता है कि गैंगस्टरों की फेसबुक और अब फेसबुक के जरिए व्हाट्स एप ग्रुपों में शामिल होना कोई सोची-समझी साजिश तो नहीं। ग्रुपों में पाकिस्तानी सैनिकों का होना भी काफी चिंता वाली बात है। ‘पंजाब केसरी’ ने इससे पहले गैंगस्टरों के फेसबुक पेज की मदद से हिंदुस्तानियों को गालियां निकालने और खालिस्तान को समर्थन देने की खबर प्रकाशित की थी।

Related Stories:

RELATED दो शीर्ष अधिकारियों ने छोड़ा फेसबुक का साथ, मार्क जकरबर्ग से था गहरा रिश्ता