पाकिस्तान कभी किसी दूसरे देश की लड़ाई नहीं लड़ेगाः इमरान खान

इंटरनैशनल डेस्कः पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान ने गुरुवार को कहा कि इस्लमाबाद भविष्य में कभी भी किसी दूसरे देश के लिए युद्ध नहीं लड़ेगा। उन्होंने इस बात पर जोर देते हुए कहा कि वे शुरुआत से ही लड़ाई के खिलाफ हैं और उनकी सरकार की विदेश नीति राष्ट्र हित का पक्षधर होगी।

प्रधानमंत्री इमरान खान रावलपिंडी स्थित मुख्यालय में आयोजित डिफेंस एंड मार्ट्स डे सेरमनी के दौरान बोल रहे थे। इसमें सांसद, राजनयिक, खिलाड़ी, कलाकार और अन्य हस्तियां मौजूद थीं। आतंकवाद पर लड़ाई के चलते बर्बादी और पीड़ा पर बोलते हुए खान ने कहा- “मैं शुरुआत से ही युद्ध के खिलाफ रहा हूं।” उन्होंने कहा- “हम किसी अन्य देश की लड़ाई का हिस्सा नहीं बनेंगे। हमारी विदेश नीति राष्ट्र हित में होगी।”

हालांकि, खान ने आंतकवाद के खिलाफ जोरदार मुकाबला करने के लिए पाकिस्तानी सेना की तारीफ की। उन्होंने कहा- “पाकिस्तान सेना की तरह बाकी कोई भी देश आतंकवाद के खिलाफ ऐसी लड़ाई नहीं लड़ी।” सभी खतरों से निपटने में देश की सुरक्षा और खुफिया एजेंसी की योगदान बेहतर रहा है। इसके साथ ही, इमरान खान ने मानव पूंजी पर निवेश की बात करते हुए बच्चों को स्कूल भेजने, अस्पताल के निर्माण और मैरिट सिस्टम की बात की। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के पास पर्याप्त संसाधन है। खान ने कहा- हम खणिज के धनी है, भौगोलिक विविधता है और चार मौसम है। सिर्फ जरूरत इस बात की है कि हम देश को महान बनाने की दिशा में लक्ष्य का सही पहचान कर ईमानदारीपूर्वक काम करें।
 

Related Stories:

RELATED वार्ता रद्द होने से मोदी पर भड़के इमरान, कहा- छोटे लोगों के पास बड़ा विजन नहीं