पाक ने की भारत से बातचीत की पहल, कहा- सरकार और सेना दोनों वार्ता को तैयार

इस्लामाबाद: भारत से बातचीत  की पहल  करते पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने शुक्रवार को कहा कि पाकिस्तान सरकार और सेना क्षेत्रीय शांति के लिए भारत से बातचीत करने के इच्छुक हैं  लेकिन भारत से कोई सकारात्मक संकेत नहीं मिल रहा है। 


फवाद चौधरी ने कहा, " हमारे प्रधानमंत्री इमरान खान ने हमने भारत से बातचीत के कई संकेत दिए हैं। प्रधानमंत्री चुने जाने के बाद इमरान खान ने भारतीय क्रिकेटरों को आमंत्रित भी किया था। अपने भाषण में उन्होंने भारत की बातचीत को पहल पर कहा   कि अगर भारत एक कदम बढ़ाएंगा तो हम बातचीत के लिए दो कदम आगे बढ़ाएंगे। "सूत्रों के अनुसार इमरान खान ने बातचीत के सिलसिले में नरेंद्र मोदी से भी बात की थी।फवाद चौधरी ने कहा, "भारत के साथ के संबंध सुधारने और बातचीत करने के लिए सेना ने भी अपनी सहमति दी है।

उन्होंने कहा कि इमरान खान व जनरल कमर जावेद बाजवा दोनों का मानना हैं कि कोई देश अलग-थलग रहकर प्रगति नहीं कर सकता।फवाद चौधर ने कहा, " हमारे प्रधानमंत्री और जनरल का मानना हैं कि अगर क्षेत्रीय शांति नहीं सुनिश्चित की गई तो हम विकास की दौड़ में पिछड़ जाएंगे।" उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान जल्द ही सिख तीर्थयात्रियों के लिए करतार सिंह सीमा को खोलेगा और उन्हें गुरद्वारा दरबार सिंह साहिब करतारपुर में बिना वीजा के यात्रा की अनुमति देगा। पाकिस्तान में तीर्थयात्रियों के प्रवेश करने के लिए एक प्रणाली बनाई गई है। 

Related Stories:

RELATED पाक सेना ने गुपचुप तरीके से किया भारत से संपर्क