भारत के लिए खतरा, दुनिया का पांचवा सबसे बड़ा परमाणु देश बन सकता है पाक

वाशिंगटनः पाकिस्तान के परमाणु हथियारों पर नजर रखने वाले लेखकों के एक हालिया रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान में इस समय 140 से 150 परमाणु हथियार है और अगर वर्तमान स्थिति जारी रहती है तो उम्मीद है कि 2025 तक यह बढ़ कर 220 से 250 हो जाएगी। 
PunjabKesari
अमरीका के रक्षा खुफिया एजेंसी ने 1999 में अनुमान लगाया था कि 2020 में पाकिस्तान के पास 60 से 80 परमाणु हथियार होगा जो इससे 60 से 80 अधिक होकर इस समय अनुमान के मुताबिक 140 से 150 के बीच है। ‘पाकिस्तान परमाणु बल 2018’ में हंस एम क्रिस्टेनसेन, रॉबर्ट एस नोरिस और जुलिया डायमंड ने कहा कि हमारा अनुमान है कि अगर वर्तमान स्थिति जारी रही तो 2025 तक देश का परमाणु भंडार वास्तविकता से बढ़ कर कहीं अधिक 220 से 250 के बीच जा सकती है।अगर ऐसा होता है तो पाकिस्तान दुनिया का पांचवां सबसे बड़ा परमाणु हथियार संपन्न देश हो जाएगा। 
PunjabKesari
मुख्य लेखक क्रिस्टेनसेन वाशिंगटन डीसी में फेडरेशन ऑफ अमेरिकन साइंटिस्ट (एफएएस) के परमाणु सूचना परियोजना निदेशक हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि पिछले एक दशक में पाकिस्तान में परमाणु हथियारों की सुरक्षा को लेकर अमरीका का मूल्यांकन काफी बदल गया है और यह विश्वास से चिंता में बदल गया है और इसकी मुख्य वजह सामरिक परमाणु हथियारों को शामिल करना भी है। 
PunjabKesari

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!