राफेल डील पर भाजपा ने कांग्रेस पर लगाया भ्रम फैलाने का आरोप, जानिए और क्या कहा?

नई दिल्लीः भाजपा ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि कांग्रेस राफेल सौदा मामले में सरकार के खिलाफ दुर्भावनापूर्ण अभियान चला रही है और अपने झूठे प्रचार के लिए उसने राष्ट्रीय हित की तिलांजलि दे दी है। सरकार के खिलाफ कांग्रेस के आरोपों पर भाजपा नेता एवं केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने इस मामले में उच्चतम न्यायालय के फैसले और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के संसद में 90 मिनट के जवाब का जिक्र करते हुए दावा किया कि विपक्षी दलों के दुर्भावनापूर्ण अभियान का भंडाफोड़ हो गया है।


केन्द्रीय मंत्री संवाददाताओं को मोदी सरकार पर कांग्रेस की ओर से भ्रष्टाचार के आरोप से जुड़े एक प्रश्न का उत्तर दे रहीं थीं। ईरानी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम सहित पार्टी के अन्य नेताओं पर प्रत्यक्षत: निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि जो लोग जमानत पर हैं वे झूठा दुष्प्रचार फैला रहे हैं।

कांग्रेस ने क्या कहा
कांग्रेस ने शुक्रवार को सरकार पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा, ‘‘इस मुद्दे पर दुर्भावनापूर्ण अभियान चलाने और अपनी राजनीति के लिए राष्ट्रीय हित को त्यागने के कांग्रेस के खेल का भंडाफोड़ हो गया है।’’

केन्द्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘ उच्चतम न्यायालय इस पर बोल चुका है, रक्षा मंत्री इस पर बोल चुकी हैं....जो अपनी राजनीति के लिए इसका इस्तेमाल करते हैं, ये पब्लिक है सब जानती है।’ दरअसल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी सरकार ने वायुसेना की 126 लड़ाकू विमानों की जरूरत को खारिज करके देश के साथ गलत किया है।

भाजपा ने सभी आरोपों से इनकार करते हुए दावा किया है कि राजग सरकार ने जिस सौदे पर हस्ताक्षर किए हैं वह पूरी तरह ईमानदार हैं और उसकी तय कीमत संप्रग के समय तय की गई कीमतों से कम हैं।

Related Stories:

RELATED कोई भ्रम नहीं होना चाहिए, राम मंदिर का निर्माण होगा : योगी