विदेशी भाषा के जानकारों के लिए PMO में नौकरी का सुनहरी मौका

नई दिल्लीः विदेशी भाषा के जानकारों के लिए नौकरी के अवसर आने वाले हैं। हाल ही में प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से विदेशी भाषा के जानकारों की कमी को लेकर चिंता जाहिर की गई है। इसके बाद से विदेश मंत्रालय विदेशी भाषा के जानकारों की खोज में जुट गया है। जिन लोगों के विदेशी भाषा के साथ भारतीय भाषा खासकर हिन्दी व अंग्रेजी का खास ज्ञान है, उनके लिए नौकरी के अच्छे अवसर निकलने जा रहे हैं।

काबिल विदेशी भाषा के जानकारों की टीम
विदेश मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिन्दी भाषा से प्रेम करते हैं और वे विदेश के साथ देश में भी विदेशी नेताओं व दलों के साथ हिन्दी में संवाद करना पसंद करते हैं। ऐसे में, उन्हें विदेशी भाषा में एक्सपर्ट और भरोसेमंद लोगों की जरूरत है। मंत्रालय सूत्रों के मुताबिक प्रधानमंत्री कार्यालय चाहता है कि भरोसेमंद व काबिल विदेशी भाषा के जानकारों की टीम में और लोगों को शामिल किया जाए।

PM लोगों से हिन्दी में करते हैं संवाद 
मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार प्रधानमंत्री कई बार विदेश में विश्वविद्यालय व औद्योगिक संगठनों जैसी जगहों पर लोगों से हिन्दी में संवाद करते हैं। प्रधानमंत्री जो कहना चाहते हैं, अगर उसमें उनके ट्रांसलेटर से मामूली गलती भी हो जाए तो मतलब कुछ और निकल जाता है। ऐसे में, विपक्षी पार्टियों को प्रधानमंत्री पर हमला करने का अवसर मिल जाता है। यही वजह है कि जल्द ही विदेशी भाषा के जानकारों के लिए नौकरी निकलने वाली है।

Related Stories:

RELATED सऊदी अरब के विदेश मंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से की मुलाकात