अॉफ द रिकार्ड: सपा व बसपा का संकेत, कांग्रेस को यूपी में 8 सीटें

लखनऊ:सपा-बसपा ने कांग्रेस नेतृत्व को साफ कर दिया है कि यूपी में उन्हें किसी भी सूरत में 8 से ज्यादा सीटें नहीं दी जाएंगी पर यहां पर भी पेंच यह है कि ये सीटें भी कांग्रेस को दोनों पार्टियां बिना मोल-भाव के नहीं दे रही हैं बल्कि मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में ये अपनी भागीदारी चाहती हैं। दोनों पार्टियां इन राज्यों में 5-5 सीटें विधानसभा व एक-एक सीट लोकसभा की चाहती हैं।

इस सब के बावजूद कांग्रेस को सबसे बड़ा झटका यूपी में लगा जहां पार्टी महागठबंधन में करीब 15 सीटों की उम्मीद कर रही थी। सूत्रों के मुताबिक सपा व बसपा में 2014 के लोकसभा चुनावों के नतीजों के आधार पर सीटों का बंटवारा हो सकता है। 2014 में समाजवादी पार्टी ने 5 सीटों पर जीत हासिल की थी और 31 सीटों पर दूसरे नंबर पर रही थी, वहीं बसपा ने एक भी सीट नहीं जीती थी लेकिन वह 34 सीटों पर दूसरे नंबर पर रही।

कांग्रेस 2 सीटों पर जीती और 6 सीटों पर दूसरे नंबर पर रही। इसलिए इस आधार पर सपा 36, बसपा 34 सीटों पर चुनाव लड़ सकती है जबकि 2 सीटें आरएलडी को दी जा सकती हैं।

Related Stories:

RELATED महागठबंधन: कांग्रेस का हाथ झटकने की तैयारी में सपा-बसपा