हाथों में कटोरे लेकर नर्सों ने मांगी भिक्षा

अमृतसर (दलजीत): ठेका आधारित नर्सों ने जलियांवाला बाग के बाहर हाथों में कटोरे लेकर पंजाब सरकार का खजाना भरने के लिए भिक्षा मांगी। नर्सों ने 245 रुपए इकट्ठा कर शगुन वाले लिफाफे में डाले और वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल को भेजे।

नर्सों ने सरकार को चेतावनी दी कि यदि उनकी सेवाएं रैगुलर न की गई तो आने वाले समय में वे अपनी नौकरियों के लिए जान की बाजी तक लगा देंगी। ठेका आधारित नर्सिंग एसोसिएशन की प्रधान सरूप कौर और पल्लवी ने कहा कि मैडीकल शिक्षा व खोज विभाग के अधीन चलने वाले सरकारी अस्पतालों में ठेका आधारित नर्सें पिछले 10 साल से कम वेतन पर काम कर रही हैं।

पंजाब सरकार नर्सों की सेवाओं को रैगुलर करने का वायदा करबार-बार मुकर रही है, जिस कारण उनमें काफी रोष पाया जा रहा है। पटियाला में उनकी यूनियन की नेता पानी की टैंकी पर अपनी मांगें मनवाने के लिए चढ़ी हुई हैं परन्तु अफसोस की बात है कि मुलाजिम हितैषी कहलाने वाली कैप्टन सरकार अपने ही मुलाजिमों की जायज मांगों संबंधी आंखें बंद कर बैठी है। इस मौके पर दिलराज कौर, राजविन्दर कौर, पिंकी व अन्य मौजूद थे।  
 

Related Stories:

RELATED नर्सों के मामले पर मगरमच्छी आंसू बहा रहे मजीठिया: मीत हेयर