जननी सुरक्षा योजना की खुली पोल, प्रसूता ने अस्पताल गेट पर दिया बच्चे को जन्म

पन्ना :जिला अस्पताल में भर्ती न होने के चलते एक महिला ने मेन गेट पर ही बच्चे को जन्म दे दिया। सरकार भले ही जननी सुरक्षा योजना पर लाखों रुपए खर्च करने के दावे कर रही हो, लेकिन इसकी सच्चाई जिला अस्पताल में कुछ और ही दिखाई दी।

दरअसल गढीपड़रिया गांव निवासी अनीता को प्रसव पीड़ा के चलते जिला अस्पताल लाया गया था। यहां प्रसूता को न तो स्ट्रैचर नसीब हुआ, न ही डॉक्टर और नर्स। हालात ये हुए कि काफी घंटे की पीड़ा के बाद महिला ने गेट पर ही एक बच्चे को जन्म दिया। परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही बरतने के आरोप लगाए हैं। हालांकि जब इस मामले को लेकर अस्पताल प्रबंधन से बात की गई तो उन्होंने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
× RELATED गरीब किसान की चमकी किस्मत, खेत में मिला 30 लाख का हीरा