‘विदेश जाने के मोह में’ ‘शादी व नौकरी के नाम पर ठगे जा रहे युवा’

2021-07-23T05:40:41.443

अपने देश में रह कर काम करने और भविष्य बनाने की बजाय आज हमारे युवा कनाडा, आस्ट्रेलिया, अमरीका, इंगलैंड, तुर्की और दक्षिण अफ्रीका आदि देशों में किसी भी तरह पहुंच कर रोजगार पाने और अधिक धन कमाने के जुनून में धोखे का शिकार हो रहे हैं।

ऐसे अनेक मामले सामने आए हैं जब पीड़ित परिवारों ने लाखों रुपए खर्च करके अपने बेटों की ‘कांट्रैक्ट मैरिज’ करवा कर इस आशा से अपनी बहुओं को विदेश भेजा कि वहां जाकर वे उन्हें ‘स्पाऊस वीजा’ भेजेंगी ताकि उनके बेटे विदेश में बस सकें परंतु इनमें से बड़ी संख्या ऐसे परिवारों को निराशा ही हाथ लगी क्योंकि इनकी ‘बहुओं’ ने विदेश पहुंच कर न सिर्फ अपने ‘पतियों’ को छोड़ दिया बल्कि कइयों ने तो उन्हें जेल भी भिजवा दिया। 

एक रिपोर्ट के अनुसार गत पांच वर्षों में दुल्हनों द्वारा ठगी की 3300 से अधिक शिकायतें विदेश मंत्रालयों में दर्ज की गई हैं जिनमें से 3000 अकेले पंजाब से थीं। इसके अलावा कुछ ट्रैवल एजैंटों द्वारा विदेश जाने के इच्छुक युवकों को भी ठगा जा रहा है जिसके चंद उदाहरण निम्र में दर्ज हैं : 

* 18 नवंबर, 2020 को संगरूर निवासी एक युवती ने लुधियाना के एक युवक से यह कह कर शादी कर ली कि वह उसे कनाडा ले जाएगी लेकिन शादी के बाद एक दिन भी ससुराल में नहीं रही और समय-समय पर अपने कथित ससुराल वालों से 8.78 लाख रुपए ठगने के बाद विदेश ले जाने की बात से साफ मुकर गई जिसके बाद पीड़ित पक्ष ने डेहलों थाना पुलिस में तीन लोगों के विरुद्ध शिकायत दर्ज करवाई।
* 5 फरवरी, 2021 को नई दिल्ली स्थित महारानी बाग में फर्जी द तर खोल कर दक्षिण अफ्रीका और तुर्की में नौकरी दिलाने के नाम पर उत्तर प्रदेश के गोरखपुर, कुशीनगर और देवरिया के 39 लोगों से उनके पासपोर्टों सहित 20 लाख की ठगी करके फरार हो जाने वाले गिरोह के सदस्यों के विरुद्ध पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। 

* 12 मार्च, 2021 को अपने लड़के को विदेश भेजने के चक्कर में संगरूर के निकट दिड़बा का एक परिवार 25 लाख रुपए की ठगी का शिकार हो गया। बाघापुराना इलाके के परिवार की एक लड़की ने पहले तो लड़के से शादी कराई फिर ससुरालियों के खर्च पर स्वयं कनाडा पहुंच कर अपने पति और ससुरालियों से संपर्क तोड़ दिया।
* 26 मार्च, 2021 को गोरखपुर के कोलिया में एक ट्रैवल एजैंसी  द्वारा विदेश भेजने के नाम पर लगभग 350 लोगों से सवा करोड़ रुपए की ठगी करके एक ट्रैवल एजैंसी द्वारा फरार हो जाने का मामला सामने आया।
* 21 मई, 2021 को फिरोजपुर निवासी एक युवती ने अपने मां-बाप के साथ मिल कर आस्ट्रेलिया जाने के लिए पहले बङ्क्षठडा निवासी एक युवक से विवाह किया और फिर  उनके 46 लाख रुपए खर्च करवा कर खुद तो विदेश पहुंच गई और वहां जाकर पति पर झूठा केस दर्ज करवाने की धमकी देकर एकतरफा तलाक लेने का केस कोर्ट में दायर कर दिया। 

* 23 मई, 2021 को श्रीगंगानगर के गांव ‘आरबी’ में एक किसान ने अपने बेटे की शादी कनाडा से स्टडी आफर प्राप्त युवती से करवाई और 9 लाख रुपए विदेश में उसकी पढ़ाई के नाम पर दिए परंतु बाद में बहू और उसके माता-पिता ने युवक को विदेश ले जाने से इंकार कर दिया।  
* 17 जुलाई, 2021 को पिहोवा सदर थाना पुलिस ने एक युवक को खिलाड़ी बताकर अमरीका भेजने के नाम पर उससे 32 लाख रुपए की ठगी करने के आरोप में एक महिला सहित 3 लोगों के विरुद्ध केस दर्ज किया।

* 18 जुलाई, 2021 को गुरदासपुर जिले के शहजादा नगर गांव के एक युवक ने जर्मनी में सैटल होने के लिए 18 लाख रुपए खर्च एक युवती से ‘कांट्रैक्ट मैरिज’ कर ली परंतु युवती उसे अपने साथ लेकर गई ही नहीं और उसका मोबाइल न बर व सोशल मीडिया पर उसका अकाऊंट ही ब्लॉक कर दिया। 

* 21 जुलाई, 2021 को शादी के बाद कनाडा बुलाने का झांसा देकर कथित रूप से गांव ताजेवाल के एक परिवार से 16 लाख रुपए की ठगी करने के आरोप में थाना माहिलपुर की पुलिस ने एक युवती और उसके पिता एवं एक रिश्तेदार के विरुद्ध धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया। 
* 21 जुलाई, 2021 को एक युवक को आस्ट्रेलिया भेजने का झांसा देकर उससे 7 लाख रुपए ठग लेने के आरोप में कुरुक्षेत्र पुलिस ने एक ट्रैवल एजैंट को गिरफ्तार किया। 

ये तो वे चंद उदाहरण हैं जो समाचार पत्रों में प्रकाशित हुए हैं इनके अलावा भी न जाने ऐसे कितने मामले हुए होंगे जिनकी रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई होंगी। इनसे स्पष्ट है कि कांट्रैक्ट मैरिज द्वारा विदेश में बसने और नौकरी के लिए बिचौलियों या ट्रैवल एजैंटों पर आंख मूंद कर भरोसा करना ठीक नहीं है। वैसे भी विदेश जाने की इच्छा रखने की बजाय बेहतर यह है कि जितनी रकम माता-पिता अपने बच्चों को विदेश भेजने पर खर्च करते हैं, उतनी ही रकम भारत में खर्च करके वे अपने बच्चों को अच्छा कारोबार शुरू करवा दें ताकि वे अपने साथ-साथ दूसरों के लिए भी रोजगार और आय के साधन पैदा करके देश की बेरोजगारी दूर कर सकें।—विजय कुमार


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Chief Editor

vijay kumar

Recommended News