चम्बा में प्रतिबंध के बावजूद भी नहीं रुक रहा पॉलीथीन का प्रयोग

चम्बा: पॉलीथीन के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगने के बावजूद जिला चम्बा में रोजाना पॉलीथीन प्रतिबंध नियमों की धज्जियां उड़ रही हैं, जिसका उदाहरण जिला मुख्यालय में देखने का रोजाना मिल रहा है। जिला में पड़ोसी राज्य पंजाब की मंडियों से रोजाना आने वाली सब्जियों की खेप पॉलीथीन के बड़े-बड़े लिफाफों में आ रही है। पॉलीथीन में पैक सब्जियों को जिला में प्रवेश करने से कोई भी प्रशासनिक अधिकारी रोकने की जहमत नहीं उठा रहा। हालांकि पॉलीथीन प्रतिबंध को प्रदेश में सख्ती से लागू करने के लिए विभिन्न विभागों के अधिकारियों को अधिकृत किया गया है परंतु जिला चम्बा के प्रवेश द्वार तुनुहट्टी से जिला में पॉलीथीन के प्रवेश को बंद करवाने के लिए कोई भी अधिकारी आगे नहीं आ रहा है।

नियमों के सख्त होने पर सब्जी विक्रेता भी अपना रहे नए-नए तौर-तरीके

पॉलीथीन प्रतिबंध लागू होने के बाद प्रारंभिक चरण में छापेमारी अभियानों के तहत पॉलीथीन जब्त करने सहित कई दुकानदारों पर चालान प्रक्रिया अमल में लाई गई। इस दिशा में सख्ती देखते हुए कई व्यापारियों व सब्जी विक्रेताओं ने भी नए-नए तरीके अपना लिए हैं, जिनमें जहां सब्जियों को पहले सीधा पॉलीथीन में भरा जाता था वहीं अब उन्हीं सब्जियों को पॉलीथीन के लिफाफों में डालकर बोरियों में भरा जा रहा है ताकि पॉलीथीन सामने दिखाई न दे। ऐसे पैंतरे कई अन्य व्यापारी भी अपना रहे हैं, जिनसे विभाग या तो बेखबर है या फिर इस दिशा में कार्रवाई नहीं करना चाह रहा है।

क्या कहते हैं लोग

एन. मिर्जा का कहना कि सब्जियों की सप्लाई लेकर आने वाले वाहनों में सरेआम पॉलीथीन के बड़े-बड़े लिफाफों में पैक सब्जियां बिना किसी रोक-टोक के मुख्यालय पहुंचकर पूरे जिला में बिक रही हैं। सब्जियां निकालने के बाद पॉलीथीन के लिफाफे सड़कों-नालियों में गिरे रहते हैं, जिससे पर्यावरण को नुक्सान पहुंच रहा है तो वहीं प्रदेश में पॉलीथीन प्रतिबंध की धज्जियां भी उड़ रही हैं। नितिन प्लाह के अनुसार पॉलीथीन का इस्तेमाल बेहद घातक है। पॉलीथीन में सब्जियों के कई पौष्टिक तत्व नष्ट हो जाते हैं। वहीं पॉलीथीन को जब इस्तेमाल के बाद कूड़े में फैंका जाता है तो उसमें खाने की वस्तु तलाशने वाले कई मवेशियों के लिए यही पॉलीथीन जान का दुश्मन बन जाता है, जिसके चलते पॉलीथीन प्रतिबंध का हर व्यक्ति को अनुसरण करना चाहिए। वहीं संबंधित विभाग को इस दिशा में कार्रवाई भी करनी चाहिए।

औचक निरीक्षण कर अमल में लाई जाएगी कार्रवाई

डी.एफ.सी. चम्बा अरविंद शर्मा ने बताया कि पॉलीथीन पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध है, इसमें कोई दोराय नहीं है जबकि मुख्यालय में सब्जियों व अन्य वस्तुओं के पॉलीथीन में आने को लेकर औचक निरीक्षण किया जाएगा, जिसमें पॉलीथीन गुणवत्ता से निम्न पॉलीथीन पाए जाने पर उचित कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

 

Related Stories:

RELATED यहां धड़ल्ले से हो रहा पॉलीथीन का प्रयोग, प्रशासन सोया कुंभकर्ण की नींद